Posts

Showing posts from March, 2014

" बसन्त गया - बहार का मौसम आया - रुत ने लोगों को अप्रैल - फूल बनाया ....!! मन फिर भी हर्षाया "...!!

Image

" और मैं क्या लिखुँ - और मैं क्या लिखुँ " ??

Image
कोयले की खान लिखूं
या मनमोहन बेईमान लिखूं ?
पप्पू पर जोक लिखूं
या मुल्ला मुलायम लिखूं ?

सी.बी.आई. बदनाम लिखूं
या जस्टिस गांगुली महान लिखूं ?

शीला की विदाई लिखूं
या लालू की रिहाई लिखूं

‘आप’ की रामलीला लिखूं
या कांग्रेस का प्यार लिखूं

भ्रष्टतम् सरकार लिखूँ
या प्रशासन बेकार लिखू ?

महँगाई की मार लिखूं
या गरीबो का बुरा हाल लिखू ?

भूखा इन्सान लिखूं
या बिकता ईमान लिखूं ?

आत्महत्या करता किसान लिखूँ
या शीश कटे जवान लिखूं ?

विधवा का विलाप लिखूँ ,
या अबला का चीत्कार लिखू ?

दिग्गी का 'टंच माल' लिखूं
या करप्शन विकराल लिखूँ ?

अजन्मी बिटिया मारी जाती लिखू,
या सयानी बिटिया ताड़ी जाती लिखू?

दहेज हत्या, शोषण, बलात्कार लिखू
या टूटे हुए मंदिरों का हाल लिखूँ ?

गद्दारों के हाथों में तलवार लिखूं
या हो रहा भारत निर्माण लिखूँ ?

जाति और सूबों में बंटा देश लिखूं
या बीस दलो की लंगड़ी सरकार लिखूँ ?

नेताओं का महंगा आहार लिखूं
या 5 रुपये का थाल लिखूं ?

लोकतंत्र का बंटाधार लिखूं
या पी.एम्. की कुर्सी पे मोदी का नाम लिखूं ?

अब आप ही बता दो मैं इस जलती कलम से क्या लिखूं"" ??
‘मोदी’ न लिखूं तो क्या लिखू…

" इमरान - मसूद " निर्दोष हैं , सज़ा तो उन्हें मिलनी चाहिए , जिन्होंने उन जैसों के दिमाग में ज़हर भरा है "!!

Image
पाठक मित्रो !! दुआ सलाम !! कैसे हैं आप ?? कल उत्तर - परदेश के एक कोंग्रेस्सी उम्मीदवार " ज़नाब इमरान - मसूद " साहिब की एक विडिओ टीवी में देखि तो एक बार तो हमारा खून खौल उठा !! मन किया अभी हमारे हाथ में कोई ऐसी शक्ति आ जाए जिसके द्वारा हम यंहा से बैठे - बैठे ही वंहा उनको सबक सिखा दें !! टीवी चॅनेल वालों ने आग में घी और दाल दिया वो विडिओ दिखाकर जिसमे हैदराबाद के माननीय विधायक महोदय ज़नाब ओवेसी जी कह रहे थे कि हम ये करदेंगे अगर सब मुसलमान इकठ्ठे हो जाएँ तो हम ये कर देंगे - वो कर देंगे !! इस खबर को टीवी वालों ने इतनी बार दिखाया कि इसका ये असर हुआ कि - हम तो पूरे तन गए और सुनाने लगे अपने पास बैठे परिवार के लोगों को " भाषण " , लेकिन तभी हमें अपना बचपन याद आ गया ! जब हमारे मकान में मौलवी साहिब किराये पर रहा करते थे , वो हमें अपने बच्चों की तरह समझते थे और हम उन्हें अपने चाचू जान की तरह , उनकी बेटी हमारी बहन के साथ ही पढ़ी और बड़ी हुई , शादी उसकी तब हुई जब वो हमारे घर की बजाये किसी दुसरे मोहल्ले में रहते थे , मुझे याद है उसके ससुराल जाने पर हम सब रोये थे !! ये घटना पंजाब क…

" भ्रष्ट श्रीनिवासन " ने बनाया नया रिकॉर्ड ! कुर्सी से ऐसे चिपके , किया " फेविकोल " को भी फेल !!- पीताम्बर दत्त शर्मा ( राजनितिक - समीक्षक )

Image
" हरिण्याक्ष , रावण और कंस " तो बेचारे राक्षस थे और जीवन में कोई गिनती के पाप किये होंगे फिर भी उन्हें आज तलक " सज़ा " दी जा रही है ! लेकिन आज के इन्सान ने उनको भी मात दे दी है !! ये इंसान इतनी सफाई से तरह - तरह के पाप करता है कि आज के " उच्च - न्यायालय " को भी बहकावे में डाल देता है !!
                         जब तक सुप्रीम - कोर्ट सीधा आदेश ना दे तब तक ये " तथाकथित मानव " किये गए पाप की सज़ा से दू रहने के लिए हाथ-पाँव मारता ही रहता है !! चाहे वो किसी भी व्यवसाय से क्यों ना जुड़ा हो ! भ्रष्टाचार को वो अपना जनम सिद्ध अधिकार मानता है !! आज " समझदार " लोग कहते हैं कि ईमानदार सिर्फ वो ही है जिसको बेईमानी करने का कोई अवसर नहीं मिला !!
                          आजकल तो ईमानदारी का दूसरा नाम " बेवकूफी " भी हो गया है !!
अफसर, नेता,करमचारी , व्यपारी  समाजसेवी और ठेकेदार तो भ्रष्टाचार को अपना धर्म ही मानने लगे हैं ! अब तो अध्यापक , संत , कवि , साहित्य्कार , पत्रकार और कलाकार भी भ्रष्ट हो गये हैं !! हद्द तो तब हो गयी जब खेल संगठन भी जुआ ख…

" हम अपने सारे काम दूसरों से करवाने के आदी हो गए हैं , तो दोष दूसरों का नहीं , हमारा ही हुआ ना !?

Image
कल मैं अपने राजनितिक मित्रों के साथ बैठा बतिया रहा था , कि तभी हमारे एक साथी बोले मियां ! ज़रा ये तो बताओ , हम अपना प्रतिनिधि चुनते ही क्यों हैं ??
                 हम अपने लिए स्व्यम ही निर्णय क्यों नहीं कर सकते !!?मैंने कहा वो इसलिए ज़नाब ! क्योंकि हमारा संविधान ऐसा करने को कहता है !! उन जनाब ने फिर एक सवाल हमारे ऊपर दे मारा ! पूछने लगे , ये संविधान जो हम पर लागू होना था , उसे हमसे पूछे बिना ही किस  " मरदूद " ने बना दिया ??
                  जो अमीरों पर किसी और  लागू होता है और गरीबों पर किसी और तरीके से !  मैंने कहा नहीं भाई आपको वहम हो गया है ये सब पर एक जैसा लागू होता है और इसे हमारे द्वारा चुने हुए सांसदों ने ही बनाया था !!  मेरे इस जवाब से मौलवी मित्र ज़रा सन्तुष्ट हिते नज़र आ ही रहे थे कि बीच में हमारे लंगोटिया यार लवली सिंह जी बोल पड़े , बोले नहीं जी शर्मा जी ये सही नहीं कह रहे आप , घोटाले करने वाले मंत्री न्यायालय के आदेश के बावज़ूद टीवी में बयां देकर हाज़िर होते हैं ,लेकिन हमारे पड़ोस में रहने वाले करमु को चोरी के इलज़ाम में पुलिस सीधा जीप में डाल कर थाणे ले गयी, …

" भाजपा की भी E.C.G. रिपोर्ट सही नहीं है यारो " !! - पीताम्बर दत्त शर्मा ( राजनितिक - समीक्षक )

Image
नगर मंडल - देहात मंडल  से लेकर , जिले , प्रदेश और केंद्रीय स्तर तक भाजपा के अन्दर भी धनी , बाहुबली और धूर्त किसम के आदमियों ने अपना कब्ज़ा जमा लिया है ! साथ ही साथ नेतृत्व को भी अपने " मायाजाल " में फंसा लिया है !! पार्टी कि विचारधारा अजीब - अजीब नारों में फंस कर रह गयी है !!

कोई नेता पार्टी का अपने कार्यकर्ताओं को सुनने हेतु मीटिंग नहीं बुलाता बल्कि अपना रटा - रटाया भाषण सुनाने आता है !! फिर किसी बड़े अमीर नेता के घर जाकर " खा - पीकर " अपने गंतव्य को प्रस्थान कर जाता है " डोलता " हुआ !!मरणासण पर लेटी  हुई है हमारी भाजपा मित्रो !! लेकिन कोई कह रहा है कि कुछ भी " अकारण " नहीं होता !! तो कोई कहता है कि अगर पार्टी के कई नेता मिलर कोई " कत्ल " कर देते हैं तो कत्ल हुए कार्यकर्त्ता को रोना नहीं चाहिए ! स्पष्ट क्यों आरोप क्यों नहीं लगाये जाते  अगर कोई दोषी है तो !! डर किस बात का जब आपका निर्णय सही है !?पार्टी की " रीतियाँ - नीतियां " केवल दिखने को ही रह गयी हैं !! कोई तो आये जो कहे कि मुझे बताओ जिसको जो दिक्कत है !! लेकिन यही कह जा र…

" मेरे ट्वीटर की बातें आप हेतु" .......!! पढ़िए , बांटिये और अपने अनमोल विचारों से हमें भी अवगत करवाएं !!

Image
pitamber dutt sharma@pitamberduttsh2 BUISNESS MAN , WRITER, B.J.P.WORKER AND SAMAJSEWAK . SURATGARH · pitamberduttsharma.blogspot.com TweetsFollowingFollowers9418617Edit profile Tweets 2h AGAR S. MANMOHAN SINGH NE DESH HIT KAA KOI KAAM KIYA HO TO UNHE HI JITANA ANYTHAA MODI JI KO VOTE DENA . !! " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER" Expand