IS KALYUG MAIN FANSI SE BARHI SAJA KYAA??????????????????????

पाठक मित्रो ,कलयुग में विश्व के जयादातर देशों में फांसी को ही सबसे सख्त सजा समझा जाता है ! वंही कई देश इसे अमानवीय कदम बताते हैं !उनका मानना है कि हम अगर इन्सान को जिन्दा नहीं कर सकते तो मारने का भी हक़ हमें नहीं है ! भारत कि मौजूदा सरकार ने तो पद से त्यागपत्र देने को ही सबसे सख्त सजा मान लिया है !तभी तो जितने भी कांग्रेस पार्टी के लोगों ने घपले किये उनको त्यागपत्र दिला दिया ! सी .बी .आई . से छापे डलवा दिए , एक दो महीने अन्दर कर दिया ! ज्यादा हुआ तो दस पंद्रह साल केस चला दिया ------ लेकिन सजा किसी को नहीं हुई ! है न मानवीय अधिकारों कि रक्षक मनमोहन सरकार ??????????   मिडिया भी सुखराम ,कप्तान सतीश शर्मा ,आदि आदि को भूल जाता है , जनता तो है ही भूलने के लिए ,और करे भी क्या ? न्यूज चेनल वाले इतने ऊटपटांग प्रोग्राम दिखाते रहते हैं एक स्केंडल अप टू डेट कार्यक्रम बनाकर नहीं दिखा सकते  ??? चाइना में एक भ्रष्टाचारी की ही नहीं उसके सारे रिश्तेदारों की     संपत्ति जब्त करली और उसे सारी उम्र की कैद दे दी !---फ़ौरन निर्णय !!!!!   -------------------             बी .जे .पी.के राष्ट्रीय अध्यक्ष कहते हैं कि येदियोरापा का अपनों को जमीन सस्ती कीमत पर देना अनेतिक तो है पर गैर क़ानूनी नहीं ---------!!!!!!   वाह  भाई वाह शराफत हो तो ऐसी हो वरना न हो ! हे राम !!!!!!!!!!----     मोटा बेशरम ---------- मोटा नेता !!!!!!!

Comments

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????