nav warsh mangalmya ho ! ! ! !

प्रिय पाठक मित्रो ,प्यार भरा नमस्कार  ! आप सब को नया साल मुबारक हो  ! कष्ट अगर नहीं हो तो खुशियों का आनंद नहीं आता ! इसलिए मेरी परमात्मा से विनती है कि कष्ट हमें उतने ही देना जितना हम सह सकें खुशियाँ हमें इतनी देना जितनी हम सब में बाँट सके  !! हम सब आशावादी बने ,यही मेरी कामना है !कोई भूखा पेट नहीं सोये !                                 फिर मिलेंगे                                                                                 धन्यवाद् !  पीताम्बर दत्त शर्मा                                                                                                                            

Comments

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????