Posts

Showing posts from October, 2013

मोदी को साधने के लिये तीसरा मोर्चा ! !!!!!

Image
बीजेपी के पीएम पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी को घेरने के लिये दर्जन भर राजनेताओं की दिल्ली शिरकत ने पहली बार जतला दिया कि मोदी के गुजरात से बाहर कदम रखते ही हर राजनीतिक थ्योरी बदल रही है। और अगर एक साथ खड़े होकर इस राजनीतिक लड़ाई को अंजाम तक नहीं पहुंचाया गया तो फासीवाद और सांप्रदायिकता की जीत हो जायेगी। यानी राजनीतिक तौर पर हर किसी का सूपड़ा साफ हो जायेगा। तो पहली बार पीएम पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी का मतलब ही हिटलरवादी, फासीवादी या सांप्रदायिकता हो चला है। यानी नेताओं का जमघट अतीत के सच को नरेन्द्र मोदी के पीएम पद का उम्मीदवार बनते ही बदल रहा है। 

क्योंकि संघ परिवार या अयोध्याकांड के नायक आडवाणी या स्वयंसेवक वाजपेयी के पीएम बनते ही फासीवाद और सांप्रदायिकता की जिस परिभाषा को सत्ता के लिये जिन नेताओं ने बदला अब नरेन्द्र मोदी के गुजरात से बाहर निकलते ही नयी परिभाषा आज दिल्ली उन्हीं नेताओं ने गढ़ी।

नीतीश के लिये बाबरी कांड करने वाले आडवाणी सांप्रदायिक कभी नहीं रहे। मुलायम की सरकार ने मुजफ्फरनगर दंगों की आग में सियासी गोटियां फेंकी। और इन्होंने सांप्रदायिकता के खिलाफ जमकर आग उगली। बाब…

"दोहे-नेता का श्रृंगार" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') ......sabhaar !!

Image
अगवाड़ा भी मस्त है, पिछवाड़ा भी मस्त। अपने नेता ने किये, कीर्तिमान सब ध्वस्त।१ अगवाड़ा भी मस्त है, पिछवाड़ा भी मस्त। अपने नेता ने किये, कीर्तिमान सब ध्वस्त।१। -- जोड़-तोड़ के अंक से, चलती है सरकार। मक्कारी-निर्लज्जता, नेता का श्रृंगार।२। -- तन-मन में तो काम है, जिह्वा पर हरिनाम। नैतिकता का शब्द तो, हुआ आज गुमनाम ।३।

" क्या सूरतगढ़ भाजपा के नगर व देहात मंडल अध्यक्षों का वसुंधरा " प्रेम " नकली था " ???

Image
प्रिय पाठक मित्रो , आपको याद होगा कि भारतीय जनता पार्टी सूरतगढ़ के नगर मंडल अध्यक्ष , देहात मंडल अध्यक्ष और जिलाध्यक्ष ने एक राय होकर ,एक बार नहीं कई बार श्री मति वसुंधरा राजे को सूरतगढ़ से विधानसभा का अगला चुनाव लड़ने हेतु केवल आमंत्रित किया था बल्कि उन्हें यंहा से हज़ारों वोटों से जीतकर भेजने कि गारन्टी भी दी थी !!
                               आजकल उन्होंने ऐसा कहना छोड़ दिया है या फिर इन उपरोक्त नेताओं में से कोई सवयं चुनाव लड़ने का इच्छुक था !! विश्वसनीय सूत्रों से पता चला है कि सूरतगढ़ देहात मंडल अध्यक्ष श्री नरेन्द्र घिंटाला ने भी अब लिए पार्टी का टिकेट सूरतगढ़ से मांग प्रदेश नेताओं के सामने रख दी है !!
                       नगर मंडल अध्यक्ष स . गुरदर्शन सिंह सोढ़ी और भाजपा जिलाध्यक्ष स . महेंदर सिंह सोढ़ी घिंटाला के इस फैसले से बड़ी "उलझन " में फ़ँसे हुए से लगते हैं ! क्योंकि सूरतगढ़ में श्री राजिन्द्र  भादू , श्री राम प्रताप कासनिया ,सहित कई छोटे बड़े कार्यकर्त्ता भी  टिकेट मांग रहे हैं !! वो भी इन पदाधिकारियों से समर्थन करने का कह रहे हैं , जो कि एक मुश्किल काम है…

"आकर्षक-समाचार" ( बाड़मेर न्यूज़ ट्रैक से साभार ) .....!!!

Image
नई दिल्ली। एक ओर जहां कांग्रेस के भीतर पार्टी उपाध्यक्ष और युवराज राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने की मांग हो रही है। तो वहीं दूसरी ओर यूपीए के सबसे बड़े घटक दल और कृषि मंत्री शरद पवार ने राहुल के साथ काम करने से साफ इन्कार कर दिया है।
"राहुल अपनी क्षमता साबित करें"

पवार ने कहा है कि राहुल को 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद बड़े रोल में आने से पहले उन्हें अपनी क्षमता साबित करने की जरूरत है। शरद पवार ने साफ शब्दों में कहा कि राहुल को प्रधानमंत्री का उम्मीदवार बनाए जाने के विरोध में नहीं हैं, लेकिन उनके साथ काम नहीं करेंगे। हालांकि उन्होंने साफ कर दिया कि वे कांग्रेस के साथ बने रहेंगे।

गौरतलब है कि पवार एक कार्यक्रम में बयान दे चुके हैं कि राजनीति और सामाजिक कार्य में कोई अछूत नहीं होता है। पवार के इस तरह के रूख को देखते हुए ऎसा लगता है कि वह अपना विकल्प खुला रखना चाहते हैं।

एक न्यूज चैनल से बातचीत में शरद पवार ने राहुल गांधी की अनुभवहीनता का जिक्र करते हुए कहा कि सबको प्रशासनिक कार्य में अपनी क्षमता साबित करनी होती है।

उन्होंने कहा कि राहुल को…

" नेताओं हेतु योग्यता कब निर्धारित करेगा चुनाव आयोग और सरकार " ? ? ?

Image
" योग्यता के बल " पर सफल हुए सभी मित्रों को मेरा नमस्कार !! आज हम उस " सेवा " की बात करेंगे जिसको करने से आदमी बहुत जल्दी करोडपति बन जाता है, उस सेवादार हेतु ,सेवादारों की लम्बी कतार लग जाती है और जिस सेवा हेतु कोई विशेष योग्यता की भी आवश्यकता भारतीय संविधान में नहीं लिखी गयी !! उम्र 25 साल से कम ना हो , भारत का नागरिक हो और बड़ा अपराधी या पागल ना हो ,बस इतना ही !
                                  जी हाँ !! " नेतागिरी " वाली सेवा के बारे में बात करेंगे आज हम - लोग !!  एक चपड़ासी बनने  हेतु जंहा शिक्षित होना आवश्यक है तो नेता बनने  हेतु शिक्षित होना क्यों आवश्यक नहीं ?? शिक्षक अगर किसी ने बनना है तो डिग्री के बाद भी टेस्ट और इंटर - व्यू ,और नेता बनने हेतु किसी नेता के घर में जनम ले लेना ही काफी क्यों ???
                 पिछले 65 सालों में नेताओं ने कुछ इस तरह की व्यवस्था बना दी है कि जो संविधान के अनुसार जो असली राजा है वो तो छोटी-छोटी मांगों में ही उलझा हुआ है और जो " सेवक " था वो आज " राजा " बन " स्वर्गीय " सुख भोग रहा है !??…

" प्रजातन्त्र के असली राजा को जागना होगा " ?? परन्तु जगायेगा कौन ??

Image
( मेरे प्रिय मित्र श्री आशीष वशिष्ठ का लेख , आप भी पढ़िए ! साभार !!)
-आशीष वशिष्ठ||
                                                                   प्रजातंत्र का वास्तविक राजा प्रजा होती है लेकिन हमारे देश का दुर्भाग्य है कि राजा सो रहा है. और जिन्हें प्रजातंत्र के राजा ने वोट के अधिकार से निर्वाचित कर विकास, सुरक्षा और कल्याण जैसी कई दूसरी अहम् जिम्मेदारियां सौंपी हैं वो कर्त्तव्यविमुख होकर निज स्वार्थ साधने और कुर्सी पर जमे रहने के की तिकड़मों में मशगूल रहते हैं. आज देश और देशवासियों की जो हालत है उसके लिए व्यवस्था के साथ-साथ प्रजातंत्र का राजा माने हम लोग भी बराबर के भागीदार हैं. अगर हम जाग रहे होते और अपने कर्तव्य का पालन ठीक ढंग से कर रहे होते तो न आज आम आदमी की जो दुर्गति है वो शायद न होती. विकास की किरण और संविधान प्रदत्त अधिकार पंक्ति में खड़े अंतिम आदमी तक पहुंचती जरूर. मगर ऐसा हुआ नहीं. आजादी मिले 66 वर्षों का लंबा वक्त गुजर गया और देश की आबादी का बड़ा हिस्सा सड़क, नाली, खंडजें, बिजली, पानी जैसी मामूली सुविधाओं के ही फेर में ही लट्टू बना घूम रहा है. शायद ही किसी ने कभी ये स…

" सूरतगढ़ में कौन नेता लायक है जो विधानसभा में प्रतिनिधित्व कर सके हमारा " ? ?

Image
" काटन सिटी " के नाम से सुविख्यात हमारा ये शहर सूरतगढ़ !! जिसका राजनितिक इतिहास विलक्षण है !! यंहा से श्री गुरशन छाबड़ा , श्री हंसराज मिढा , श्री अमर चन्द मिढा , श्री अशोक नागपाल और अब श्री गंगाजल मील विधानसभा में नेत्रित्व कर चुके हैं ! अब आगामी दिसंबर माह में नए विधायक चुने जाने हेतु जनमत माँगा जायेगा ! छाबड़ा जी जंहा कोलेज खुलवाने , हंसराज जी टिब्बा क्षेत्र में पानी पंहुचाने हेतु मशहूर रहे , वन्ही मौजूदा विधायक श्री गंगाजल मील ने पार्क बनवाने , पुल शुरू करवाने ,स्कूल बनवाने और सीवर सिस्टम की शुरुआत करने जैसे कई काम अपने नाम के साथ जोड़ने में सफलता पाई है !! केवल श्री अशोक नागपाल ही ऐसे विधायक हैं जो अपने नाम के साथ कोई विशेष काम अपने पांच साल के कार्यकाल में भी नहीं जोड़ पाए !!

                         यंहा की भाजपा फिर पूरे जोश में दिखाई पड़ रही है , ना जाने क्यों ??? भारत में आजकल नरेंद्र मोदी के नाम की लहर चल रही है , तो इसका मतलब ये हरगिज़ नहीं निकाला जाना चाहिए कि विधानसभा के चुनावों में भी जनता भाजपा को ही जिताएगी ! भाजपा के कार्यकर्त्ता और नेता बहुत जल्दी " जोश…

भाई पर अपहरण के आरोप पर बोले रामदेव, गांधी खानदान मुझे सेक्स रैकेट में भी फंसवा सकता है ! ! !! ? ? ?

Image

                                                           अपने भाई पर अपहरण के आरोप में दर्ज मामले से भड़के योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा है कि गांधी खानदान के कहने पर पुलिस उन्हें और उनके परिवार को अपराधी साबित करने पर तुली है. बाबा बोले कि जिसके अपहरण की बात हो रही है, वह चोर था और योगपीठ की पूछताछ के बाद उसे पुलिस के हवाले किया गया. बाबा ने यह भी कहा कि यह सरकार और खानदार कल को मुझे ड्रग और सेक्स रैकेट में भी फंसा सकता है. बाबा रामदेव ने मंगलवार सुबह इंदौर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र सरकार को खरी खरी सुनाइए. पढ़िए उनके बोल वचन...
‘ये सरकार और भी नीच हरकत कर सकती है. इनकी साजिश है कि योग पीठ में कहीं भी प्रफेशनल लोगों से ड्रग रखवा दो. फिर देखते हैं बाबा को बचाने कौन आता है.बाबा की छवि खंडित करो. जो सेक्स रैकेट चलाने वाले लोग हैं, उन्हें भी पतंजलि योग पीठ में घुसाओ. गिरफ्तार करो और फिर कहो कि बाबा सेक्स रैकेट चलाता है. लोकतंत्र का मजाक बना दिया. एक खानदान का बंधक बन गया, जो वो चाहेंगे, वही होगा.’

जो पकड़ा गया वो चोर था

अपरहण के आरोप पर ये है बाबा की सफाई. ‘कल का मामला बस इतना है क…
Image
" प्यारे दोस्तो !! सादर नमस्कार " !! कुशलता के आदान-प्रदान पश्चात समाचार ये है कि कई दिनों बाद मेरे ब्लॉग का ट्रांसलेटर अब कंही जाकर सही हुआ है !! अभी भी फोटो डाऊनलोड करने की सुविधा ठीक नहीं हुई है , चलो आपसे हिंदी में लिख कर संवाद तो कायम रख ही सकता हूँ !!
                      कई विषयों पर मेरे विचार मेरे दिमाग में ही रुके हुए हैं और कई रोमांच से भरी बातें , हंसी से भरी यादें आपके साथ बांटनी हैं , जिसका सिलसिला सोमवार से शुरू कर पाऊंगा !!
                      आपकी तरफ से जो मुझे प्यार मिलता है उस से उत्साहित होकर ही मैं कुछ लिख पाता हूँ !! मेरे ब्लॉग के पाठकों की संख्या 30,000 के पास पंहुचने वाली है ! मेरे फेसबुक , गूगल +, पेज़ और ग्रुप " फिफ्थ पिल्लर करप्शन किल्लर " पर भी आपका आशीर्वाद सैंकड़ों की संख्या में रोजाना  कोमेंट्स और लाईक के ज़रिये मुझे मिलता रहता है !

                मेरे प्रिय लेखक मित्रों की सुन्दर रचनाओं को भी मेरे ब्लॉग आदि पर जगह मिलती रहती है उसे भी जो प्यार आप लोग देते हो उसके लिए मेरा आप सब पाठकों को नमन है !! उन अच्छे लेखकों की वजह से मेरे विच…

" मेरे प्रिय मित्र श्री सूबेदार जी की सुन्दर रचना , आप भी पढ़िए..." भारत को बचाने फिर कब आओगे श्याम --------?

Image
शुक्रवार, 27 सितम्बर 2013
जब-जब धर्म की हानी होती है मै आता हु ऐसा गीता मे भगवान श्रीक़ृष्ण ने कहा ऐसा प्रकट भी हुआ, समय- समय पर या तो वे स्वयं आए अथवा अपने अंश को भेजा जिसके द्वारा धरती का उद्धार हुआ जब हम पृथबी की कल्पना करते हैं तो उसका अर्थ आर्यावर्त, भारतवर्ष अथवा हिंदुस्तान ही होगा क्यों की जब धर्म की बात होगी तो केवल भारत मे ही होगी क्यों की वे यहीं आए चाहे वामन के रूप मे या कच्छप अथवा श्रीराम, श्रीक़ृष्ण के रूप मे और यहीं से धरती का उद्धार किया इसका अर्थ भी हमे समझना पड़ेगा मानव, मानवता क्या है ? उसकी भी ब्याख्या होनी चाहिए, जो भगवान मनु की संतान अपने-आप को मानते हैं वास्तव मे मनुष्य वही हैं, इस धरती पर कुछ लोग मोमिन अथवा खृष्ट हैं वे मनुष्य नहीं उनके ग्रन्थों मे मानवता का वर्णन भी नहीं है एक मे कुरान, मोमिन व उनके पैगंबर का वर्णन है दूसरे मे भी इशू, चर्च व बाइबिल का ही वर्णन है  इनकी मानवता जो इंनका अनुयाई है जिसका विसवास इनकी पूजा पद्धति मे वही मानव है
जो अपने संप्रदाय तक ही सीमित है।

          भारत का अर्थ क्या है यह हमें समझने की आवश्यकता है भारत की अपनी संस्कृति है वह गावों…