Posts

Showing posts from September, 2014

कौन है गठबंधन तोड़ने वाले "खलनायक' !

Image
कौन नहीं चाहता था गठबंधन । महाराष्ट्र की सियासत में लाख टके का सवाल अब यही हो गया है । शिवसेना कयास लगा रही है कि बीजेपी की राज्य इकाई को यह संकेत दिल्ली से आया। बीजेपी कयास लगा रही है उट्टव ठाकरे की कोटरी जिसमें सबसे शक्तिसाली रश्मी ठाकरे हैं, उनका संकेत था । आरएसएस के भीतर कयास लग रहे हैं कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को उपर का संकेत था यानी प्रधानमंत्री मोदी से। अगर कयास सही है तो संकेत साफ है कि शिवसेना-बीजेपी का गठबंधन हर हाल में टूटना था और दोनो तरफ से सबसे प्रभावी या कहे ताकतवर लोग ही नहीं चाहते थे कि गठबंधन रहे। क्योंकि शिवसेना प्रमुख की पत्नी रश्मी ठाकरे मौजूदा वक्त में सबसे ताकतवर है और गठबंधन टूटने के बाद बीजेपी के भीतर से लगातार यही आवाज आ रही है कि उद्दव ठाकरे की राजनीतिक महत्वकांक्षा को उड़ान देने के लिये परिवार की ही वह कोटरी है जो शिवसेना के हर निर्णय को लेने में सक्षम है। इस कोटरी में कोई बाहरी शिवसैनिक नहीं है बल्कि ठाकरे परिवार के ही सदस्य है। और उद्दव ठाकरे का हर निर्णय इससे प्रभावित होता है।

इसीलिये जो ठाकरे परिवार हमेशा किंगमेकर की भूमिका में रहा वह पहली बार किंग बन…

बाप का माल है !! बपौती हमारी !!-पीताम्बर दत्त शर्मा पेश करता है श्रीमान कमल कुमार सिंह जी का एक प्यारा " व्यंग " !!

Image
बपौती

बपौती काई प्रकार कि होती है, एक तो  बाप का माल, हलाकि जो ये समझता है वो खुद भी अपने बाप का माल ही होता है भले वो अपने आपको बाप का माल समझे या नहीं या अपने बाप को ही घुड़क दे, लेकिन बाकी वस्तुवो को बाप का माल समझने वाला एक खास किस्म का दिमागी योध्धा होता है, जो बिना किसी से लड़े ही सबको अपने बाप का माल मानता है। 
जैसे किसी ज़माने सवर्ण दलित को अपने बाप का माल समझता था, मुसलमान कुरआन और मोहम्मद को अपने बाप का माल समझता है, आशाराम अपने महिला  भक्तो को अपने बाप का माल समझते है, बोस अपने मातहत को अपने बाप का माल समझता है, पुरुष स्त्री को अपने बाप का माल समझता है, स्त्री पुरुष  के माँ बाप को अपने बाप का माल समझती है,  दलित वाल्मीकि जी  को अपने  बाप का माल समझता है, सवर्ण परशुराम को अपने बाप का माल समझता है, कुत्ता तक दूसरों के जूठन को अपने बाप का माल समझता है। यानि सबके बाप के माल केटेगराईज्ड है। 
इसी कड़ी में नेता सबको धता बना अपना प्रथम स्थान बार बार लगातार कायम किये रखे हुए है, नेता मुसलमान के वोट को अपने बाप का माल समझते है। इसी परम्परा को को आगे  बढ़ाते हुए अपने प्रधान मंत्री मन…

  " इन्टरनेट सोशियल मीडिया ब्लॉग प्रेस "" फिफ्थ पिल्लर - कारप्शन किल्लर "- आपका अपना ऑन - लाईन समाचार-पत्र !! रोज़ाना पढ़िए , मित्रों संग शेयर कीजिये और अपने अनमोल कॉमेंट भी अवश्य लिखिए !!

Image
प्रिय मित्र,सादर नमस्कार !!
          आपसे मित्रता करके मुझे अत्यंत प्रसन्नता हो रही है ! आपके जनम दिन की आपको हार्दिक बधाई और शुभ कामनाएं !! कृपया स्वीकार करें ! आपका जीवन सदा खुशियों से भरा रहे !! मेरा फेसबुक,गूगल+,ब्लॉग,पेज और विभिन्न ग्रुपों की सदस्य्ता ग्रहण करने का एक ख़ास उद्देश्य है ! मैं एक लेखक-विश्लेषक और एक समीक्षक हूँ ! राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय ज्वलंत विषयों पर लिखना -पढ़ना मेरा शौक है ! मैं एक साधारण पढ़ालिखा और साफ़ स्वभाव का आदमी हूँ ! भारतीय संस्कृति और सनातन धर्म से प्यार करता हूँ ! भारत देश के लिए अगर मेरे प्राण काम आ सकें तो मैं इसे अपना सौभाग्य मानूंगा !परन्तु किसी संत-राजनितिक दल और नेता हेतु नहीं !मैं एक बिन्दास स्वभाव का आदमी हूँ ! मेरी मित्र मण्डली में मेरे बच्चे और रिश्तेदार भी शामिल हैं ! तो भी मैं सभी विषयों पर अपने खुले विचार रखता हूँ !! आप सब का हार्दिक स्वागत है मेरे जीवन में !! मैं आपकी यादों - बातों को संभल कर रखूँगा !!




मित्रो !! मैं अपने ब्लॉग , फेसबुक , पेज़,ग्रुप और गुगल+ को एक समाचार-पत्र की तरह से देखता हूँ !! आप भी मेरे ओर मेरे मित्रों की सभी पोस्टों को …

" भाजपा की गैस-प्रॉब्लम बहुत पुरानी है , हर जीत के बाद हो ही जाती है " !!कोई दवा काम नहीं कर रही - पीताम्बर दत्त शर्मा ( लेखक-समीक्षक-विश्लेषक )

Image
मित्रो !! चाहे समय जनसंघ का हो या भाजपा का हमारे ये भारतीय संस्कृति वाले नेता " राजनितिक-गैस प्रॉब्लम " के शिकार हैं ! जब ये जीत नहीं होते हैं तब तो ये कार्यकर्त्ता को पार्टी की रीढ़ और ना जाने क्या-क्या भाषण देते हैं , नियम बताते हैं और आदेश देते हैं , वो आप भी भलीभांति जानते होंगे क्योंकि आपने भी कभी ना कभी अवश्य सुने होंगे !! सारा देश ये मानने लगा की जो ये कह रहे हैं , शायद वो ही " सत्य " है , इसीलिए जनता ने अबकी बार भाजपा को एक मुश्त जीत दिलवादी ! 
               लेकिन बेचारा अकेला मोदी  जी क्या करें ???? किस-किस पर नज़र रख्खें ?? किस-किस को रोकें ?? ससुरे भाषण देकर सारे घोड़े बेचकर सो गए !! भाड़ में जाएँ कार्यकर्त्ता और भाड़ में जाये जनता !!जनता ने भी तुरन्त " नतीजा " दिखा दिया ! अब बोल रहे हैं " गहरा-मंथन " करेंगे ?? हो गया मंथन !! जनता को रोज़ सारे मंत्रियों की ऐसी कार्यवाही का समाचार पढ़ने देखने को मिले जिसमे किसी भ्रष्ट पर कार्यवाही हुई हो !! क्या देश में रहने वाले चोर-गद्दार को पकड़ने हेतु कोई पहाड़ तोड़ कर लाना पड़ता है ??बाबुओं को जल्दी काम करने…

"फिफ्थ पिल्लर करप्शन किल्लर"द्वारा सूरतगढ़ में करवाये जा रहे"मतदाता जागरूकता अभियान एवं कौन बनेगा पार्षद व चेयरमैन" के सर्वे का दूसरा क्रम " ख़ुफ़िया-सर्वे "15 सितम्बर 2014 से शुरू !

Image
सूरतगढ़ वासियो !! आपको ये जानकार अति प्रसन्नता होगी कि ,"फिफ्थ पिल्लर करप्शन किल्लर"द्वारा सूरतगढ़ में करवाये जा रहे"मतदाता जागरूकता अभियान एवं कौन बनेगा पार्षद व चेयरमैन" के सर्वे का पहला सत्र समाप्त हो गया है ! इस सत्र में हम सूरतगढ़ के सभी 35 वार्डों में घूमे और आपकी राय जानी !!! 
   इस सर्वे का दूसरा क्रम " ख़ुफ़िया-सर्वे " 15 सितम्बर 2014 से शुरू हो गया है ! इसके अंतर्गत हमारी 5 सदस्यीय टीम पूरे सूरतगढ़ शहर में आज से 23 सितम्बर 2014 तक घूम-घूम कर आपके मन की बात जानेगी ! 
             इस सर्वे का अंतिम पड़ाव 25  सितम्बर 2014 से 30 सितम्बर 2014 तक चलेगा ! जिसमे हम आपके पास एक " सर्वे-मतदान-पेटिका " लेकर पंहुचेंगे ! आप  पसन्द के भावी पार्षद और चेयरमैन का नाम लिखकर उसमे डालेंगे ! तत्पश्चात तीनों  सर्वे का विशेषज्ञ लोग मन्थन करेंगे ! और अंत में दिनांक 2 अक्टूबर 2014 को सायं 4:15 बजे राष्ट्रीय राम लीला उत्थान क्लब के मंच, जो नगरपालिका कार्यालय के सामने स्थित है से इसका नतीजा घोषित किया जायेगा !! इस नतीजे में प्रत्येक वार्ड से जनता किसको अपना भावी पार्षद द…