Thursday, April 2, 2015

"लो मित्रो !! वानप्रस्थाश्रम और आध्यात्म यात्रा की ओर जाने की तैयारी शुरू कर रहा हूँ "!!-पीताम्बर दत्त शर्मा ( लेखक-विश्लेषक)

मेरे प्रिय पाठक मित्रो !
                  सादर नमस्कार !
कुशलता के आदान-प्रदान पश्चात समाचार ये है कि सन 2015 की 1 जनवरी से मैंने सभी प्रकार की राजनितिक-सामाजिक सक्रिय गतिविधियों को त्याग दिया है ! सभी प्रकार की बुरी आदतें 31 दिसंबर 2010 से ही छोड़ दी थीं !इसी के साथ भोजन भी एक समय कर दिया है !क्योंकि -
                   जीवन के ऐसे मोड़ पर आ चुका हूँ, जहाँ ये सोचना आवश्यक हो गया है कि हमारा जन्म इस धरती पर किस उद्देश्य की पूर्ती हेतु हुआ है ?गृहस्थाश्रम की लगभग सभी जिम्मेदारियाँ पूरी होने को हैं !जो एक-आध बाकी है वो भगवान पूरी करवा ही देंगे !राजनितिक और समाजसेवी संगठनों के रंग, जो हमें हमारे जीवन में दिखे,वो मुझे अपने साथ ज्यादा कभी भी बाँध ही नहीं पाये !जब तक इनमे रहा भी, तो, मैं एक प्रकार की असहजता ही महसूस करता रहता था !इसलिए इनको छोड़ने में  भी मुझे ज़रा सी भी  दिक्कत महसूस नहीं हुई !
               मित्रो !! अपने आगामी जीवन काल में, मैं आपके साथ मिलकर एक बड़ा ही नेक उद्देश्य पूरा करना चाहता हूँ ! मुझे पूर्ण विश्वास है की आप सबका साथ इस उद्देश्य को पूरा करने हेतु मुझे अवश्य मिलेगा ! मैं आज आपके साथ अपना वो उद्देश्य भी साँझा करना चाहता हूँ ! उद्देश्य ये है -:
           जीवन के अनुभव से मुझे ये ज्ञात हुआ है कि सनातन धर्म के ज्ञान से भरे ग्रंथों,स्थानों एवं अन्य बहुमूल्य वस्तुओं को पहले मुस्लिम लुटेरों और फिर अंग्रेजी शासकों ने खूब लूटा जलाया और अपने साथ भी ले गए ! आज जो हमारे पास ग्रन्थ बचे हैं , वो अधूरे और टूटी-फूटी कड़ियों वाले हैं ! जिनका फायदा उठाकर कई आडंबरी ठगों ने साधू बनकर या अपना धर्म बनाकर एक प्रकार की दुकानें खोल ली हैं ! कई नेता और फिल्म-नाटक निर्माता भी इसका फायदा उठाकर करोड़ों कमा चुके हैं ! ठगे हमारे भोले सनातन-धर्मी लोग ही जाते हैं !आज हमें किसी देवता की पूरी जानकारी एक जगह नहीं मिलती और नाही सनातन-धर्म के अनुसार परमात्मा को पाने की विधियाँ प्रमाणित रूप से एक जगह मिलती हैं !समय का अभाव मनुष्य को रहता ही है ! किसी के पास  समय नहीं है जिस से वो सारे ग्रन्थ पढ़ कर स्वयं निर्णय ले सके कि उसे किधर जाना है ?!
               इन्हीं बातों से प्रेरित होकर मैंने ये निर्णय लिया है कि मैं फेसबुक,गूगल+,ब्लॉग और ग्रुप्स की मदद से , आप सब दोस्तों के ज्ञान का फायदा उठाकर , एक टीम का गठन करूँ और फिर गाँव-गाँव, शहर-शहर और पूरे भारत में भ्रमण करके , आप सभी मित्रों से मिलकर आपकी मदद से वो,ऐतिहासिक जानकारियां एकत्रित करूँ, जो हमारे धर्म-ग्रंथों में वर्णित नहीं हैं ! और फिर विद्वानों के माध्यम से नयी व पुरानी जानकारियां मिलाकर इंटरनेट पर नए सिरे से सभी देवताओं की जीवनियाँ , उनके उपदेश आदि एक जगह पर डाल दें ! ताकि भविष्य में ना तो कोई भ्रमित हो सके , और नाही कोई किसी को भ्रमित कर सके !जिसको किसी देवता की जानकारी चाहिए होगी , वो उसे एक क्लिक करने पर मिल जाएगी और जिसको परमात्मा पाने की सनातन-धर्म की विधियां जाननी होंगी वो भी उसे एक ही क्लिक करने पर उपलब्ध हो जाएंगी !
            इस पवित्र कार्य को पूरा करने हेतु इसकी शुरुआत 1 नवम्बर 2015 को सूरतगढ़ राजस्थान से करने की इच्छा है ! इस भारत-भ्रमण यात्रा में एक वैन में इंटरनेट के साथ प्रिंटर-कंप्यूटर लगे होंगे , एक वैन में साउंड-टेन्ट और रसोई की व्यवस्था होगी !जिस गाँव-शहर में जाएंगे वहाँ थोड़ा सत्संग करेंगे,अपना आने का उद्देश्य बताएँगे और वहाँ के लोगों से जानकारी लेंगे कि क्या उनके पास कोई धार्मिक पुरानी किताब है ? क्या उनके यहां कोई पुरातन धार्मिक स्थान है ?जहां ये सब होगा वहाँ जरूरत के मुताबिक रुकेंगे और जहां ऐसा कुछ नहीं होगा वहाँ सत्संग करके आगे बढ़ जाएंगे !
              ये है मोटा-मोटा हमारा प्लान ! अब आप इस कार्यक्रम में अपनी बुद्धि से और चार-चाँद लगाइये ! और जो मित्र इसमें अपना जो सहयोग जैसा भी , देना चाहे ,  वो भी हमें सूचित करें !हमारा नाम और पता सब विस्तार से नीचे लिखा है !
          


            " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " नामक ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) के पाठक मित्रों से एक विनम्र निवेदन - - - !!
आपका हार्दिक स्वागत है हमारे ब्लॉग ( समाचार-पत्र ) पर, जिसका नाम है - " 5TH PILLAR CORRUPTIONKILLER " कृपया इसे एक समाचार-पत्र की तरह ही पढ़ें - देखें और अपने सभी मित्रों को भी शेयर करें ! इसमें मेरे लेखों के इलावा मेरे प्रिय लेखक मित्रों के लेख भी प्रकाशित किये जाते हैं ! जो बड़े ही ज्ञान वर्धक और ज्वलंत - विषयों पर आधारित होते हैं ! इसमें चित्र भी ऐसे होते हैं जो आपको बेहद पसंद आएंगे ! इसमें सभी प्रकार के विषयों को शामिल किया जाता है जैसे - शेयरों-शायरी , मनोरंजक घटनाएँ आदि-आदि !! इसका लिंक ये है -www.pitamberduttsharma.blogspot.com.,ये समाचार पत्र आपको टविटर , गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी मिल जाएगा ! ! अतः ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर इसे सब पढ़ें !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !! मेरा इ मेल ये है : - pitamberdutt.sharma@gmail.com. मेरे ब्लॉग और फेसबुक के लिंक ये हैं :-www.facebook.com/pitamberdutt.sharma.7. मेरा ई मेल पता ये है -: pitamberdutt.sharma@gmail.com.
जो अभी तलक मेरे मित्र नहीं बन पाये हैं , कृपया वो जल्दी से अपनी फ्रेंड-रिक्वेस्ट भेजें

                       
सधन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।
मोबाईल नंबर-09414657511
" आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!
BY :- " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " THE BLOG . READ,SHARE AND GIVE YOUR VELUABEL COMMENTS DAILY . !!
Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE SOCIETY,Suratgarh. (raj)INDIA.    

2 comments:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल शनिवार (04-04-2015) को "दायरे यादों के" { चर्चा - 1937 } पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ...
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक

    ReplyDelete
  2. बहुत अच्छा सोचा है आपने ..इस नेक काम के लिए हार्दिक शुभकामनायें!

    ReplyDelete

2014 की कॉरपोरेट फंडिग ने बदल दी है देश की सियासत !!

चुनाव की चकाचौंध भरी रंगत 2014 के लोकसभा चुनाव की है। और क्या चुनाव के इस हंगामे के पीछे कारपोरेट का ही पैसा रहा। क्योंकि पहली बार एडीआर न...