Thursday, November 12, 2015

हो गए चुनाव,मना ली दीपावली ,अब तो कर लो इस गरीब देश की रखवाली !! - पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो. न. - +919414657511.

"क्या-क्या सितम नहीं ढाएँ हैं इन कमीनों ने चुनाव की खातिर "इस देश की जनता पर , पोत दी है "कालिख"भारत माता के मुंह पर !अब जांच करवाओ कि "किसके" कहने पर कोन - क्या बोला ? किसने किसके कहने पर हड़ताल की ? जिन्होंने पुरुस्कार लोटाये उन्हें "हौसला" किसने दिया ?"दादरी-हार्दिक पटेल-पंजाब में छाये असंतोष और योगेन्द्र-यादव केजरीवाल एंड पार्टी के पीछे कौन-कौन सी छिपी हुई ताक़तें हैं ??कांग्रेस - कम्युनिस्टों के और कितने छिपे हुए दोस्त हैं ? हमें सब पता लगाना ही होगा ! क्योंकि अगर ये लोग अब फिर "सत्ता"तक पहुँच गए तो फिर इस देश में हिन्दू सभ्यता को मानने वाले हर धर्म के लोग सदा के लिए असरुक्षित हो जाएंगे !
                          मोदी जी  तो देश हित में अपने काम में लग गए हैं ! विदेशों में भारत हित साधने की श्रृंखला में लंदन और फिर तुर्की जायेंगे ! देश की सारी जिम्मेदारी गृहमंत्री राजनाथ सिंह और अपने अन्य मंत्रियों को सौंप गए हैं !अब इन्ही लोगों को चौकस रहकर अपने काम करने हैं !इस देश में आज से पहले भी दंगे फसाद ,प्रदर्शन,धार्मिक भावनाओं को ठेस पंहुचने , अत्याचार और महंगाई जैसी समस्याएं आती रही हैं ! उनकी प्रतिक्रिया भी हुई थी ! लेकिन जो "ज़हर भरा वातावरण "अब नज़र आ रहा है पहले कभी नज़र नहीं आया ! क्या ये विपक्ष के साथ मिलकर देश के दुश्मन करवा रहे हैं ? क्या सत्ता पाने का लालच भारतीय नेताओं को इस स्तर तलक ले गया है ?ये जांच का विषय ही नहीं बल्कि अफ़सोस का विषय भी है !
                              दो दिन पहले जब ये समाचार सुना कि सिख भाई दशम गुरु की देह स्वरूप गुरु ग्रन्थ साहिब जी की बीड़ें जलादेने के विरोध स्वरूप इसबार दीपावली पर हमारे स्वर्ण-मंदिर को सजाया नहीं जाएगा , तो यकीन मानिए ! दिल इतना दुखी हुआ और मन में ख्याल आया कि जो काम 15 साल में खालिस्तानी आतंकवाद नहीं कर पाया , वो काम आज उन "शख्सों"ने कर दिया, जिन्होंने सिख आगुओं को ये सुझाव देकर उन्हें ऐसा करने पर राज़ी कर लिया !ऐसे "दोफाड़"करने वाले लोग हर उस जगह पर कैसे इतने प्रभावी हो जाते हैं ?जहां भी कुछ अनहोनी हो जाती है इस देश में ??हैरानी वाली बात ये भी है की वहाँ उपस्थित लोग उन बुरे सुझावों को मान भी लेते हैं जो उनके लिए ही नुकसानदायक होता है ??
                  हमारे देश के मीडिया की बड़ी भारी ये जिम्मेदारी बनती है कि हर बुरी खबर को वो समेटने का काम करे और देश के लिए हर अच्छी खबर को वो कई दिनों तलक फैलाये !वामपंथियों और उनके समर्थकों को भी ये सोचना चाहिए की अगर ये देश रहेगा , तो वो भी कुछ करने के लिए बचे रहेंगे ,अगर ये देश ही नहीं रहेगा,तो कुछ भी नहीं रहेगा ! इसलिए .......सब बोलो !! जय हिन्द !! 
                                " आकर्षक - समाचार ,लुभावने समाचार " आप भी पढ़िए और मित्रों को भी पढ़ाइये .....!!!

मेरा मोबाईल नंबर ये है :- 09414657511. 01509-222768. धन्यवाद !!
आपका प्रिय मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा,
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार,
R.C.P. रोड, सूरतगढ़ !
जिला-श्री गंगानगर।

Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE


1 comment:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शनिवार (14-11-2015) को "पञ्च दिवसीय पर्व समूह दीपावली व उसका महत्त्व" (चर्चा अंक-2160) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete

2014 की कॉरपोरेट फंडिग ने बदल दी है देश की सियासत !!

चुनाव की चकाचौंध भरी रंगत 2014 के लोकसभा चुनाव की है। और क्या चुनाव के इस हंगामे के पीछे कारपोरेट का ही पैसा रहा। क्योंकि पहली बार एडीआर न...