Wednesday, February 2, 2011

media murkh banta hai ya banata hai ?? ?? ?? ?? ?? ??

प्यारे पाठक मित्रो, प्यार भरा नमस्कार, बसंत की बहार स्वीकार करें !!  !! सी. बी.आई.ने भ्रष्टाचार के "राजा"को हवालात में क्या डाल दिया सारा मिडिया ऐसे प्रतिक्रिया प्रगट कररहा है जैसे सब निष्कर्ष निकल गए हों, न्यायिक प्रक्रिया समाप्त होगयी हो,और सजा सुनादी गयी हो !आज से पहले नजाने कितने कांग्रेसी नेताओं को सी.बी.आई.ने ग्रिफ्तार करके न्यायालय में पेश किया उन सबका क्या हश्र हुआ ,मीडिया भूल गया?? ?? ?? जनता को भूल जाने की आदत थी ,मीडिया भी इसका शिकार हो गया या वो भी जनता को बेवकूफ बनाने की योजना में शामिल है ??  ??  ??   अभी कल की ही बात है - सी.वी.सी. थामस के मामले में श्रीमती सुषमा जी ने कहा कि मैं न्यायालय में शपथपत्र नहीं दूँगी तो यही मीडिया कहने लगाकि पक्ष -विपक्ष मिलगया है ! ये सब इसी लिए होइता है क्योंकि मीडिया इतनी जल्दी भड़क भी जाता है ,जितनी जल्दी भावुक होता है !! !!  !! ऋषि मुनि कह गए हैं कि गन्दी बातों को दबाया जाना चाहिए और बढ़िया बातों को फेलाया जाना चाहिए !परन्तु हो इसके बिलकुल उलट रहा है !

No comments:

Post a Comment

"अब कि बार कोई कार्यकर्ता ही हमारा जनसेवक (विधायक) होगा"!!

"सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र की जनता ने ये निर्णय कर लिया है कि उसे अब अपना अगला विधायक कोई नेता,चौधरी,राजा या धनवान नहीं बल्कि किसी एक का...