"कारोबार !! समस्याओं का" !!? - पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो.न. +9414657511

जी हाँ , मित्रो !! आप बिलकुल सही पढ़ रहे हैं ! जहां आजकल हर उस कारोबार में भारी मन्दी छायी हुई है जो पूर्व में प्रचलित हैं ! लेकिन एक नया कारोबार बहुत बढ़िया चल निकल है जिसका नाम है , "समस्या"पैदा करो और अपनी "रोटी"कमाओ ! "आधुनिकता और स्वार्थ " की देन है,ये आज का  नया व्यवसाय !!जो जितना "कमीना" होगा वो उतना  ज्यादा फायदा इसमें उठाएगा "जी"! इस कारोबार को पहले अफसरों ने अपनाया,फिर ये "धंधा"नेताओं और ठेकेदारों के पास पहुंचा और अब ये हर चतुर और ढीठ आदमी का मन-पसन्द व्यपार है !
               माननीय केजरीवाल जी एवम उनके सहयोगी इस धंधे के गोल्ड मेडलिस्ट हैं ,झूठे समाजसेवी संगठन और आधुनिक क्लासिफाइड पत्रकार भी इस कार्य में निपुण हैं "जी" !!आप ज़रा भारत में पिछले 10 वर्षों से घट रहे "घटनाक्रमों"की और ध्यान दीजिये ! तो आप पाएंगे कि हर सप्ताह देश में कोई ना कोई ऐसा "घट"जाता है जो "असम्भव"सा लगता है ,लेकिन हमारा मीडिया उसे अपनी आमदनी अनुसार उसे इतना "खेंचता"है कि मानों विश्व में उसके सिवाय कुछभी घटा नहीं और उससे ज्यादा कुछ महत्वपूर्ण भी नहीं है !लेकिन एक  ख़ास वक़्त बाद कोई दूसरा काण्ड हो जाता है !
              गोधराकांड से शुरू हो जाइये और काश्मीर समस्या से लेकर कन्याकुमारी तक की समस्याएं कुछ ऐसी ही लगती हैं बनावटी सीं !!जिनके पीछे सचमुच की "गंभीर"बातें क्या अच्छी क्या बुरी छिप जाती हैं "जी"!!सभी उन लोगों को बड़ा ही चौकस रहना होगा ,जो भारत को "चलाने वाले,रक्षक,ग्यानी और देश भक्त" लोग हैं !! बाकि तो भगवान ही मालिक है जी ! 
                 जय - हिन्द !! जय भारत ! वन्दे मातरम !
प्रिय मित्रो !सादर नमस्कार !कुशलता के आदान-प्रदान पश्चात जिन भी मित्रों का आज जन्म-दिन या विवाह दिवस है , उनको मेरी तरफ से हार्दिक बधाई और शुभ कामनाएं !आप अपने ब्लॉग "फिफ्थ पिल्लर करप्शन किल्लर"को बहुत पसंद कर रहे हैं,रोज़ाना इसमें प्रकाशित लेखों को पढ़ कर शेयर करते हैं ,उन पर अपने अनमोल कॉमेंट्स भी देते हैं !उस सब के लिए भी आपका हार्दिक आभार प्रस्तुत करता हूँ !इस ब्लॉग का लिंक ये है - www.pitamberduttsharma.blogspot.com 
मेरा e -mail ऐड्रेस ये है - 
pitamberdutt.sharma@gmail.com
मेरा मोबाईल नंबर ये है - +9414657511 . 
कृपया इसी तरह इस ब्लॉग को मेरे गूगल+,पेज,विभिन्न ग्रुप ,ट्वीटर और फेस बुक पर पढ़ते रहें , शेयर और कॉमेंट्स भी करते रहें क्योंकि ये ही मेरे लिए "ऑक्सीजन"का काम करती है ! धन्यवाद !आपका अपना - पीतांबर दत्त शर्मा !




                        
                          

Comments

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल सोमवार (29-08-2016) को "शैक्षिक गुणवत्ता" (चर्चा अंक-2450) पर भी होगी।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????