"जल हेतु जलाया जायेगा हमारा भारत"!क्यों ? - पीताम्बर शर्मा (लेखक-विश्लेषक) + 9414657511

मित्रो ! हमारे भारतीय संविधान में ये स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि जितने भी खनिज पदार्थ हमारी धरती के गर्भ में हैं , जितने भी और जीवन स्रोत हैं , सब पर पूरे देश के वासियों का अधिकार है ! और तो और हमारे भारत के अंदर जो भी चीज़ है चल-अचल,जीवित या बेजान सब पर पहला हक़ हमारी भारत सरकार का है !
                                    लेकिन हमारे देश के राजनेता अपने स्वार्थ सिद्धि हेतु हर कायदा-कानून तोड़ने से ज़रा सा गुरेज़ भी नहीं करते !अभी हाल ही में उपद्रवियों ने कर्नाटक में करोड़ों का नुक्सान कर दिया जबकि पानी के बंटवारे हेतु सर्वोच्च-न्यायालय ने स्पष्ट निर्णय दे रक्खा है !देश में सक्रिय देशद्रोही जो हमारे बीच में ही छिपे हुए रहते हैं !वो इसी तरह के मौकों की ताक में रहते हैं !उनका भरण-पोषण विदेशी ताकतों के धन से पनप रहे कुछ समाजसेवी संगठनों और भ्रष्ट नेताओं द्वारा किया जाता है ! ये सब बेहद शर्मनाक कार्य है !
                              पिछले कुछ दिनों से पंजाब के टीवी चेनलों पर पानी पर ऐसे ही भड़काने वाले विज्ञापन भी दिखाए जा रहे हैं !उन्हें ना तो राज्य सरकार बन्द करवा रही है और ना ही केंद्र सरकार ! लेकिन उसका असर अगले चन्द महीनों बाद चुनावों के नज़दीक नज़र आ सकता है जब कोई राजनितिक दल पंजाब-हरिया और राजस्थान को पानी नहीं दिए जाने हेतु आंदोलन चला देगा !फिर तोड़-फोड़ और आगजनी भी हो सकती है !देश की सुरक्ष एजेंसियों को जागरूक हो जाना चाहिए और केंद्र एवम राज्य सरकारों को अपने सभी मसले बातचीत से वक़्त से पहले हल कर लेने चाहियें अन्यथा हम अपने दुर्भाग्य को कोसते ही रह जाएंगे !
                            जबकि असल में इन भावी समस्याओं के लिए हम ही जिम्मेदार होंगे !हमारी सरकारों को ऐसे उपद्रवी तत्वों और उनके पोषक तत्वों की पहचान पूरे भारत में करके सख्त कार्यवाही करनी चाहिए !ये जांच का विषय तो  लेकिन देश की सुरक्षा का भी विषय है !
               जय - हिन्द !! जय भारत ! वन्दे मातरम !
प्रिय मित्रो !सादर नमस्कार !कुशलता के आदान-प्रदान पश्चात जिन भी मित्रों का आज जन्म-दिन या विवाह दिवस है , उनको मेरी तरफ से हार्दिक बधाई और शुभ कामनाएं !आप अपने ब्लॉग "फिफ्थ पिल्लर करप्शन किल्लर"को बहुत पसंद कर रहे हैं,रोज़ाना इसमें प्रकाशित लेखों को पढ़ कर शेयर करते हैं ,उन पर अपने अनमोल कॉमेंट्स भी देते हैं !उस सब के लिए भी आपका हार्दिक आभार प्रस्तुत करता हूँ !इस ब्लॉग का लिंक ये है - www.pitamberduttsharma.blogspot.com 
मेरा e -mail ऐड्रेस ये है - 
pitamberdutt.sharma@gmail.com
मेरा मोबाईल नंबर ये है - +9414657511 . 
कृपया इसी तरह इस ब्लॉग को मेरे गूगल+,पेज,विभिन्न ग्रुप ,ट्वीटर और फेस बुक पर पढ़ते रहें , शेयर और कॉमेंट्स भी करते रहें क्योंकि ये ही मेरे लिए "ऑक्सीजन"का काम करती है ! धन्यवाद !आपका अपना - पीतांबर दत्त शर्मा !




Comments

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार (18-09-2016) को "मा फलेषु कदाचन्" (चर्चा अंक-2469) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????