Saturday, September 30, 2017

फए5🚩To:---"Anti Modi Friends"🚩

🚩अगर बैंक की लाइन में "मृत्यु" के "ज़िम्मेदार" #मोदीजी है, तो 1947 #विभाजन के "नरसंहार" का "ज़िंम्मेदार" कौन ???
बस वैसे ही पुछ रहा हुँ ????

🚩अगर बैंक की लाइन में" मृत्यु "के "ज़िम्मेदार" मोदीजी है, तो हजारो "निर्दोष  #सिखो की हत्या" का, "जिम्मेदार" कौन ???
बस वैसे ही पुछ रहा हुँ ??

🚩अगर बैंक की लाइन में "मृत्यु" के "ज़िम्मेदार" मोदीजी है, तो "हज़ारो #कश्मीरी पंडितों" के,"नरसंहार" का "ज़िंम्मेदार" कौन ???
बस वैसे ही पुछ रहा हुँ???

🚩🙏🏼अम्बानी, अदानी, सिंघवी, टाटा, बिरला, माल्या, ललित मोदी........... *ये मोदी के कार्यकाल में #अरबपति बने थे क्या ???*

🚩क्या 85 अरबपतियों को जो "90 हजार करोड़ का #लोन" दिया गया था........  *क्या वो मोदी के समय दिया गया ...??*

🚩जिस भी अफसर के घर "छापा" डाला जाए... तो "करोड़ रुपये" तो उसके #गद्दे के नीचे" ही, मिल जाते है ....... *क्या ये मोदी के काल में कमाए गये ....????*

🚩  *किस हद की मूर्खता पूर्ण देश भर में बातें है .* ????

🚩मोदी के काल में तो - "माल्या के 8000 करोड़" के लोन के जवाब में, "ED ने उसकी 9120 करोड़" की "संम्पत्ति को कब्जे" में ले लिया है .....

🚩*बस यही गलती हुई है, कि मोदी #अकेला भ्रष्ट लोगो" के खिलाफ "लड़" रहा है...* ....

🚩🚩और🚩🚩

🚩  *हमारे देश में "नमक और नमकहराम" दोनों "पर्याप्त मात्रा" में उपलब्ध हैं ....

🚩"व्यक्तिगत" रूप से आप *बीजेपी के विरोधी* हो सकते हैं "बीजेपी की नीतियों के विरोधी" हो सकते हैं ......ये एक सामान्य प्रकिया है.. ..... और इसमें "कुछ गलत" भी, नहीं है......

🚩 परंतु आप,"आलोचक की हद" को पार करके, *घृणित-निंदक* बनकर *PM की आलोचना* कैसे कर सकते हैं...???

🚩 आप,"उस व्यक्ति" की "आलोचना" कर रहे हैं, जो लगभग "15 सालों से CM" के बाद, अब "PM" रहते हुए  भी, #अपनी_सैलेरी_राष्ट्र" को "दान" करता आ रहा है!!!!!

🚩 "PM हाउस" में,"अपना खर्चा स्वं उठाता आ रहा है"..।!!!

🚩🙏🏼 *Pm की निंदा-रस* में डूबते समय, क्या आपको खयाल आया है, कि क्या "आपने कभी 1 महीने की सैलेरी राष्ट्र को दान किया है"...?

🚩   ₹-240 की LPG-Subsidy तो आप छोड़ नहीं पाते, बाकी.. क्या आप में हिम्मत है, 1 साल की "सैलेरी" *राष्ट्र को दान कर दें...?* ???

🚩तो फिर आप उस "व्यक्ति की निंदा"कैसे कर सकते हैं, जो "15 सालों  से ये सब करता आ रहा है"....???

 🚩 3 बार गुजरात का CM रहने के बावजूद, जिसके पास ,कोई *बड़ी संपत्ति नहीं* है, परिवार को भी ,जिसने "VIP सुविधाओं" से "महरूम" कर रखा है ।!!!

🚩जिस PM के "विदेशी दौरों" को  आप सिर्फ ,"घूमने फिरने" का नाम देते हैं ......जबकि "असली उदेश्य" *व्यापारिक समझौते और आपसी सम्बन्ध को सुधारना* होता है।!!!

🚩 एक 66 साल का व्यक्ति- - 6 दिन में 5 देशों की यात्रा करता, 40 "महत्वपूर्ण मीटिंग"में भाग लेता है।

🚩 *देश का पैसा बचाने के लिए* ऐसी "प्लानिंग" करता है, जिससे "होटल में कम से कम रुका जाए"...., और, "फ्लाइट में नींद पूरी की जाये".......

🚩🙏🏼उसके" दौरे को आप सिर्फ भ्रमण का नाम देते हैं"..???

🚩👌*वैश्विक मंदी और ख़राब मौसम की मार*  झेलने की बाद भी,देश पर "आंशिक प्रभाव पड़ा है"......

🚩👌और *देश आगे बढ़ रहा है*, क्या इतना "काफी" नहीं है..????

🚩🙏🏼काँग्रेस द्वारा *60+ सालों से किये गये गड्ढे* क्या 2 साल में भर जायेंगे..???

🚩अभी तक ,"कांग्रेस की सरकारों" से , अगर 25% भी हिसाब माँगा जाता, तो ये दिन देखने नहीं पड़ते.

कितने शर्म की बात है........

🚩🙏🏼एक तरह  जिस व्यक्ति को, *सारा विश्व सम्मान दे रहा है*....

🚩🙏🏼वहीं दूसरी तरफ - "कुछ लोग" (जो उसी देश के हैं) उसी "सम्मान" को," गलत साबित "करने पर तुले हैं......

🚩🙏🏼  निवेदन है कि अपने देश के प्रधानमंत्री की गरिमा को,#मज़बूत_बनायें
🔫सबसे बड़ी बात राजीव गांधी ने कहा था कि हम उपर से विकास के लिए 100पैसे भेजते हैं और विकास में सिर्फ 5 रू लगते हैं तो उस समय केन्द्र और राज्य में किसकी सरकार थी कहाँ गये वो 95 पैसे |यदि वो 95 पैसा मिल जाए तो पेट्रोल 80रू ली करनें की जरूरत ही नहीं पडेगी |
 🚩

2 comments:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल सोमवार (02-010-2017) को
    "अनुबन्धों का प्यार" (चर्चा अंक 2745)
    पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  2. कोई जवाब देने नहीं आयेगा।
    चोरों को शोर मचाने में फायदा हैँ।
    लूटा भारत लूटो।

    ReplyDelete

अभिषेक मनु सिंघवी का हाथ जैसे ही उस अर्द्धनग्न महिला के कमर के उपर पहुँचा ,  महिला ने बड़ी अदा व बड़े प्यार से पूछा - "जज कब बना रहे ह...