"आज की प्रोफैशनल होती हुई भाजपा,पुराने विचारधारा-युक्त और निष्ठावान कार्यकर्ताओं को, गंगा जी में तारने जा रही है क्या"?- पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक)

आज सूरतगढ़ में भाजपा के " कार्यकर्त्ता-मिलन "कार्यक्रम जिला-प्रभारी श्रीमान कैलाश मेघवाल , कार्यकर्ताओं से मिलेंगे और मोदी जी एवं वसुंधरा सरकार द्वारा करवाये गए कार्यों की जानकारी देंगे ! तथाकथित संगठन की दृष्टि से वो भाजपा श्रीगंगानगर के एक प्रभावशाली नेता हैं !उनका पार्टी के नेताओं पर काफी दबदबा है ! लेकिन क्या वो कनिष्ठ कार्यकर्ताओं के " मन की बात " जान पाएंगे ? जबकि वास्तविकता ये है कि भाजपा के प्रदेशध्यक्ष श्रीमान अशोक परनामी जी 1 वर्ष बाद माननीया वसुन्धरा जी के "आशीर्वाद "और ईशारा प्राप्त कर अपनी कार्यकारिणी घोषित कर पाये हैं !इसी तरह इशारे पा-पा कर ही जिला कार्यकारिणियां और मंडल कार्यकारिणियां बनायीं जा रही हैं !
                            भाजपा के मूल विचारों से जुड़े हुए पुराने एवं निष्ठावान कार्यकर्ताओं को मालूम है कि  पहले जब भी कोई संगठन का नेता भाजपा की मीटिंग लेता था तो वो सबसे पहले मीटिंग में उपस्थित लोगों की हाज़िरी लेता था ! फिर मीटिंग में जो आये हैं ,वो कौन हैं , उनका परिचय लिया जाता था और अपना दिया जाता था ! तत्पश्चात ये देखा जाता था कि जिनको बुलाया गया था, क्या वो सब आये हैं ? और जो बुलावे के बिना स्वतः ही आ गए हैं उन्हें मीटिंग से बाहर भेज दिया जाता था !उसके बाद पहले कार्यकर्ताओं के विचार जाने जाते थे फिर उनका उद्बोधन हुआ करता था ! 
                                       लेकिन पिछले विधानसभा और फिर लोक सभा चुनावों में हमारी प्रिय पार्टी एक ख़ास प्रकार के लोगों के हाथों में चली गयी ! जिन्हें हम चोर डाकू की बजाये " प्रोफैशनल " कहेंगे !चुनावों के बाद काम करवाकर केंद्र में जैसे माननीय आडवाणी और जोशी जी जैसे धुरंधरों को " फोटो" में तब्दील कर दिया गया जीते जी , वैसे ही कई प्रादेशिक,जिले के और मंडल स्तर के कार्यकर्ताओं को " जीते जी गंगा जी में तार " दिया गया ! इसीलिए आज की इस मीटिंग में ऐसे कई कार्यकर्त्ता नहीं गए क्योंकि उनका स्वाभिमान उन्हें इसकी इज़ाज़त नहीं देता ! 
               इसी कमी को छिपाने हेतु ही नगर मंडल और देहात मंडल की संयुक्त बैठक बुलाई गयी है ताकि आगुन्तक नेता को भारी भीड़ दिखाई जा सके और असंतोष को छिपाया जा सके ! लेकिन देखना ये है कि आगंतुक नेता मेघवाल जी इस भुलावे में आकर बहक जायेंगे ?और क्या केवल मालाएं पहन कर भाषण सुनकर - सुनाकर चले जाएंगे जैसा कि पिछले कई समय से पार्टी में ऐसा ही हो रहा है !जबकि सभी आगुन्तक नेता और कैलाश जी भाई साहिब बड़े जागरूक नेता हैं !और अगर आज के नेताओं के पास समय नहीं है तो वो वार्ड कमेटियों में मीटिंग करने कब जायेंगे ?
                           अब सवाल ये उठता है कि ऐसा सब किसके चाहने से पार्टी में हो रहा है ?? क्या हमारा संगठन भी यही चाहता है ??क्या हमारा संगठन सत्ता का गुलाम बन कर रह गया है ?? ये जांच का विषय है उनके लिए जो पार्टी के शुभचिंतक हैं ! अगर आप भी शुभचिंतक हैं तो अवश्य विचार कीजिये और अपनी ही पार्टी में आवाज़ बुलन्द कीजिये !अन्यथा 2019 में चुनाव नतीजे "प्रोफैशनल नेताओं " के प्रयास के बावजूद अच्छे नहीं आएंगे बोल देता हूँ !
                           
 

 "5TH PILLAR CORRUPTION KILLER",नामक ब्लॉग रोज़ाना अवश्य पढ़ें,जिसका लिंक - www.pitamberduttsharma.blogspot.com. है !इसे अपने मित्रों संग शेयर करें और अपने अनमोल विचार भी हमें अवश्य लिख कर भेजें !इसकी सामग्री आपको फेसबुक,गूगल+,पेज और कई ग्रुप्स में भी मिल जाएगी !इसे आप एक समाचार पत्र की तरह से ही पढ़ें !हमारी इ-मेल ईद ये है - pitamberdutt.sharma@gmail.com. f.b.id.-www.facebook.com/pitamberduttsharma.7 . आप का जीवन खुशियों से भरा रहे !इस ख़ुशी के अवसर पर आपको हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !!
आपका अपना - पीताम्बर दत्त शर्मा -(लेखक-विश्लेषक), मोबाईल नंबर - 9414657511 , सूरतगढ़,पिनकोड -335804 ,जिला श्री गंगानगर , राजस्थान ,भारत !

Comments

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????