Tuesday, May 10, 2016

उनका "देशप्रेम", हमारे देशप्रेम से बड़ा कैसे ?? - पीतांबर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो.न. - +919414657511

आजकल भारत में "सच्चे इतिहास"और अपने आपको सच्चा देश-भक्त दिखाने का मौसम सा चल है जैसे ! जिसे देखो वो ही अपने मर्ज़ी के आदमियों को आजादी का सच्चा सिपाही बता रहा है !और अपनेआपको सच्चा देश भक्त बताकर दोबारा से इतिहास लिखने-पढ़ाने की बातें कर रहा है !उस वक़्त के इनके बुज़ुर्ग तो भाव वश जेल  चले गए और अपने प्राणों को भी देश पर न्योछावर कर गए ,लेकिन वो अंग्रेज़ों की उस विशेष "डायरी" में अपना नाम अंकित नहीं करवा पाये ,जिसको देखकर तत्कालीन वामपंथियों ने इतिहास लिखा था !अब बाद में पछताने से क्या होता है जब "चिड़िया"चुग गयी खेत !!
           आज जिन लोगों की इस देश में सरकार चल रही है , वो लोग इतने भोले और अपरिपक्व हैं कि हर काम को वो तुरंत कर देना चाहते हैं !जिस बात को काम पूरा होने तलक "गुप्त"रखना चाहिए , उसका ढिंढोरा ये लोग पहले ही स्वयं पीटने लग जाते हैं !जिससे वो लोग चोकन्ने हो जाते हैं जिन्होंने उस समय अपनी "सत्ता"का फायदा उठाकर अपनी मर्ज़ी से कॉमरेडों से भारत का "विशेष इतिहास "लिखवाया और 67 वर्षों तलक पढ़वाया था !
                      जो मुद्दे अगले कार्यकाल हेतु छोड़ दिए जाने चाहिएं उन्हें ये भोले नेता लोग प्राथमिकता से आगे बढ़ा रहे हैं और जो जनहित के मुद्दे पहले सारे नियम-क़ानून को बदलकर तुरंत लागू करके जनता के दिलों में अपना स्थान अगले 20 वर्षों तलक सत्तासीन रहने हेतु प्रयास करने चाहिए थे वो इन्होने संविधान और सिस्टम के पचड़ों में फंसाकर हंसी के पात्र बन रहे हैं !एकबार फिर इन हिन्दू-नेताओं ने अपनेआपको अपरिपक्व ही साबित किया है !बड़बोलापन, जल्दी "फूंक"में आ जाना और "दसों - दिशाओं "के ज्ञाता होने का भ्रम पाले रखना इनकी विशेष कमियां हैं !दूसरी तरफ के कॉंग्रेसी+समाजवादी+कॉमरेड और अम्बेडकरवादी सभी मिल जाते हैं और इनको सत्ता से बाहर रहते हुए भी कूटनीति से "धुल-चटा"जाते हैं !डराते हैं सो वो अलग !
          जब भी कांग्रेस सत्ता से बाहर रही है वो सत्तासीन पार्टियों को डराने में कामयाब रही है !यही इनकी वो विशेषता है जिसे भारत के अफसर लोग भी भलीभांति से समझते हैं !शायद इसीलिए सारे अफसर इनका काम सत्ता में नहीं होने पर भी प्राथमिकता से करते हैं !कार्यपालिका पर पकड़ ही बड़ा नेता बनाने में सहायक सिद्ध होती है !
             इसलिए हिन्दू नेताओ !! होश में आओ !!परिपकवता दिखाओ ! रोटी-कपड़ा और मकान से संबंधित जनहित के कार्य प्राथमिकता से सभी कानूनों में बदलाव करके तुरंत सभी लाभ जनता तक पंहुचाओ !!अन्यथा आगे फिरसे सत्तासीन होने का ख्वाब लेना छोड़ दो !!
             जय-हिन्द !! जय-भारत !!
 "5th पिल्लर करप्शन किल्लर"वो ब्लॉग जिसे आप रोज़ाना पढ़ना,बाँटना और अपने अमूल्य कॉमेंट्स देना चाहेंगे !लिंक- www.pitamberduttsharma.blogspot.com.


  

No comments:

Post a Comment

मुसलमानो का असली दूश्मन कौन है ..???? अगर भारतीय मुसलमानो से पूछो की तुम्हारा सबसे बड़ा दुश्मन कौन है,तो वो बोलेंगे... आरएसएस वीएचपी बीज...