" हमारी प्यारी सरोज जोशी" !! - पीताम्बर दत्त शर्मा

"चुलबुली,नटखट,बिन्दास और महान कवयित्री ,व्यंगकार और लेखिका" ! हमारी प्यारी सरोज जोशी !!जी की पेश हैं अनमोल रचनाएँ !
पांडव भी वही कर रहें थे,,,
जो कौरव कर रहे थे,,,,
*युद्ध*
बेचारी निर्दोष जनता अपने अपने राजाओं को बचाने के लिए मर कट रही थी ।
वही आज हो रहा है । मुद्दों से अलग स्वार्थ की राजनीति ,,,
आरोप पत्यारोपों की राजनीति खेली जा रही है ।
कोई भी राजा हमारे बारे में न सोच रहा हो पर अपने राजा की जीत पर ताली पीट रहे हैं हम ।
 वाह रे ------राजाओं,,,,
और वाह री -------प्रजा,,,,
सभी धन्य हैं हम ।

<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<

अजी ,
कोई एक पत्रकार का नाम बताओ जो आपकी नजरों में सच्चा हो ।
बेचारे सच भी बोले ,,,शातिर उनपर झूठ का मुलाजमा चढ़ाकर सच को भी झूठ बता देते हैं ।

अपने अपने आकाओं की नजरों में चढ़ने के लिए ।।।
भले ही वो इन्हें घास ही न डालता हो ।🤣🤣🤣🤣🤣
,"अंधेर नगरी,,,, चौपट राजा "।
>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>
भला हो
सूरज ,चाँद ,सितारे
हमसे दूर है
वरना *अम्बानी*और *रामदेव*
इनकी भी पुड़िया बनाकर बेच देतें 
<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<
जिसने भी *प्रभो* को देखा है-----
वो मेरा एक काम करेगा ??????
मैंने उनके नाम चिट्ठी लिखी है ,, उन तक पहुंचा दो ।
>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>
इंसान प्यार करने के लिए होता है ,
और
पैसा उपयोग करने के लिए ,,,
पर सब उल्टा पुलटा हो रहा है ।
इंसान का उपयोग हो रहा है
पैसे से प्यार हो रहा है ।
वाह रे ईश्वर तेरी माया,,,,
किसान के हिस्से घूप,
बिचौलियों के हिस्से माया ।
<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<
अभी तो मैं ही नही समझ पाई खुद को ------
कि मैं क्या हूँ ।
और तुम *लोगा* यूँ ही हमें समझने में समय बर्बाद कर रिये हो ।
टेड़ी खीर हूँ भाईयों , बहनों
इतना समझ लो ।🤣🤣🤣🤣🤣🤣🤣🤣
हर वक्त ज्ञान भरी पोस्ट हो ,,,,जरूरी तो नही ?
आज बस हँसने का मूड है ।
भले ही *लाफ्टर डे* नही है आज ।
युवा पीढ़ी को हँसने के लिए बहानों की जरूरत होती है ।
हम तो बेवजह भी हँस लेते हैं ।🤣🤣🤣🤣🤣🤣🤣
ऐसे-- ,
सरोज जोशी
<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<<

पत्तो सी होती है *स्त्रियां*
सूखने पर दरख्त भी
हाथ खींच लेता है
झाड़ लेता है पल्ला
अपनी जिम्मेदारियों का,
छोड़ देता है
बिखरने के लिए
बड़ी ही निर्दयता से
जानता है वो
उनकी जगह
नइ पत्तियाँ
ले लेगी
वो कभी
सूना नही
रहेगा।
>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>
ये साला
हमारे शरीर मे आत्मा का वास है !!
किसकी खोज है ये ????
इसका झांसा दे ,,साधुओं की दुकानें चल पड़ी ।🤣🤣
सरोज जोशी ! सधन्यवाद !


प्रिय "5TH पिल्लर करप्शन किल्लर"नामक ब्लॉग के पाठक मित्रो !सादर प्यारभरा नमस्कार वो ब्लॉग जिसे आप रोजाना पढना,शेयर करना और कोमेंट करना चाहेंगे !
 link -www.pitamberduttsharma.blogspot.com मोबाईल न. + 9414657511.
 इंटरनेट कोड में ये है लिंक :- https://t.co/iCtIR8iZMX.
 मेरा इ मेल ये है -: "pitamberdutt.sharma@gmail.com. आप मेरा साथ पिछले 7 वर्षों से दे रहे हैं !मैं आपका हृदय से आभारी हूँ !आपने ना केवल मेरे और मेरे मित्रों के लेखों को पढ़ा,बल्कि उसे अपने मित्रों संग शेयर भी किया ,पसंद किया और उस पर जाकर कॉमेंट भी लिखे ! जो मेरे लिए ना केवल अनमोल थे , साथ ही साथ मेरे लिए वो प्रेरणादायी भी थे !कई मित्रों ने तो मेरा ब्लॉग ज्वाइन भी किया है !कई समाचार पत्रों-पत्रिकाओं ने मेरे लेख प्रकाशित भी किये ! उनका भी मैं आभारी हूँ !आप सबकी इस अनुकम्पा से ही आज मेरे पाठकों की संख्या अगर मैं सभी माध्यमों की जोड़ दूँ तो तक़रीबन दस लाख(१०,०००००. )बनती है !क्योंकि ब्लॉग पर लिखी सामग्री गूगल+,ट्वीटर,फेसबुक और उसके कई ग्रुपों के साथ साथ मेरे पेज पर भी डाली जाती है !
                         मैं बड़े ही गर्व के साथ कह सकता हूँ की मेरे ब्लॉग को माननीय प्रधानमंत्री श्री मान नरेंद्र मोदी जी और माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष भाजपा श्री मान अमित शाह जी भी पढ़ते हैं !उन्होंने मुझे ट्वीट भी किये हैं ! कई बड़े लेखक और लेखिकाएं,कवी-कवित्रियाँ और स्वतंत्र टिप्पणीकार आदि भी जुड़े हैं जिससे मैं अपने आपको गौरवान्वित समझता हूँ !आशा करता हूँ की आप सबका मुझे और ज्यादा साथ मिलेगा ! फिर मैं बारी बारी से आप सबके शहरों में आकर मिलूंगा !आपसे और ज्यादा सीखूंगा !
                           आप सबसे अनुरोध है कि आप मुझे अपने अनमोल सुझाव देते रहा करें !
                               सधन्यवाद !
                                                  आपका अपना ,
                                                   पीताम्बर दत्त शर्मा,
                                                     सूरतगढ़ !

Comments

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????