Friday, June 24, 2011

" BATAAO - KAISE - MARNA - PASAND - KAROGE -- -- ? ? ? ? ?

मरने वालो दोस्तों प्रणाम !सलाम ! मरना तो सभी ने है ,कोई अपने समय पर तो कोई असमय पर मरता है  | पर हमारी चुनी हुई सरकार रोज़ हंटर मार - मार कर हमसे पूछ रही है कि बता हमें वोट देने वाले वोटर ,कैसे मरना पसंद करोगे ? ?रोजाना नए - नए प्राण हनन  निर्णयों से आप्शन भी दिए जा रही है | ( १) विदेशी नीतियाँ ऐसी बनादें जिससे कोई देश या तो लूट कर खा जाये या फिर हमला करके गोली मार दे ? ( २) या हम ,नेता,अफसर और माफिया, मिलकर देश को ही इतना लूट लें कि उक्त देशवासी वस्तुओं के अभाव में मारा  जाए ? (३) या मंहगाई इतनी करदें कि तू कोई चीज़ खरीद ही न सके ? ( ४ )या फिर तुझे जातिवाद, साम्प्रदायिकता के दंगों में आपस में लडवा के मरवा देवें ??? बोल ? ? ? बोल  ? बोल हिंदुस्तान के हिन्दू कैसे मरेगा ?? हिन्दू बनकर,इसाई,सिख,जैन,या मुस्लिम बनकर, कैसे मरना चाहता है ? ? ? ? सुन्न पड़ा नागरिक बोला , माई बाप, मरने से पहले मेरी अंतिम इच्छा तो पूरी करदो ----? सरकार बोली,बोल तेरी क्या इच्छा है ? नागरिक बोला मुझे एक दिन के लिए इस इंडिया का राजा बना दो !हा - हा - हा - हा ---हा राजा !!,बेवकूफ समझा है क्या ? तू हमारे बहकावे में आ गया ,तो क्या हम भी तेरे बहकावे में आजायें ???वेसे चल तू ये बता ,अगर हम तुझे एक दिन का राजा बना दें तो तू क्या - क्या करेगा ?साहिब जी मैं  सबसे पहले ( १) सभी धार्मिक गतिविधियों को घर के अन्दर बंद कर दूंगा | ( २) फिर में सभी बेरोजगारों की लिस्ट बनाकर जो वो कार्य जानते हैं , के मुताबिक देश में काम दे दूंगा | ( ३ ) विदेश नीति  दोबारा बनाऊंगा ,जिससे श्रीलंका,पाकिस्तान ,बंगलादेश,नेपाल,म्यामार,और भूटान  दोबारा एक हो कर " भारत " बन जाये | (४) फिर हम सब मिलकर एक नया संविधान बनायेंगे जो आम जनता के प्रति जवाब देह हो |नाकि अंग्रेजों के संविधान की  नक़ल मात्र  हो | सरकार बोली देखो मायावती जी ये क्या - क्या सोच रहा है ? हाँ जी, ये तो देश तोड़ने की बात कर रहा है बी.जे .पी. बोली | मार दयो  एन्नु तां--- आ लओ  तलवार अकाली बोले,ऐ तां धार्मिक जलूस बंद करदा फिरदा है |येस किल दिस पर्सन ,ये साम्प्रदायिक है ,कोमरेड बोले , मारो - मारो सारे नेता बोले इस देश के गद्दार को मार डालो | और इस तरह से एक देश भगत मार दिया  गया - - - -!!!!!

No comments:

Post a Comment

"अब कि बार कोई कार्यकर्ता ही हमारा जनसेवक (विधायक) होगा"!!

"सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र की जनता ने ये निर्णय कर लिया है कि उसे अब अपना अगला विधायक कोई नेता,चौधरी,राजा या धनवान नहीं बल्कि किसी एक का...