Tuesday, November 8, 2011

जेल में......." नेता "........ " बिग - बॉस में ....." स्वामी "...? ? ?

दुनिया  भर के व्यस्क मित्रो , "  प्यार " भरा नमस्कार !! आज  का मेरा लेख केवल वयस्कों हेतु है कृपया इसे रात्री दस बजे के बाद ही पढ़ें ! क्योंकि आजका विषय ही ऐसा है !" जेल में नेता,बिग -बॉस में स्वामी और भाड़ में जनता चली गयी है ???? और पत्रकार ख़बरें छाप,पढ़  और सुना रहे हैं !! पत्रकारों कभी कई खेमे बने हुए हैं | कभी कभी तो ऐसा लगता है की सब कुछ जैसे " कॉर्पोरेट - जगत " के वश में हो गया है|| क्या राजनितिक दल , क्या सरकारी योजनाएँ, क्या एन.जी.ओ. और क्या मीडिया सब इनके चंगुल  में फंसे हुए हैं या मौज कर रहे हैं ||  किसी को भी अपना फ़र्ज़ ,देश और धर्म याद नहीं आ रहा .....!! कोई हिम्मत करके अन्ना जी जैसा अपनी टीम बना कर इन्हें चेताने की कोशिश करता है तो राक्षसी वृति से उसे रोक दिया जाता है !! यही प्रकिरिया हर छोटे - बड़े स्तर पर होती देखी जा सकती है !! शायद यही परमात्मा की भी मर्ज़ी है क्योंकि अगर ये सब नहीं होगा तो प्रलय कैसे और कब आएगी ....???? नेता जी जेलों में क्यों हैं ये तो शायद अब किसी से भी छुपा हुआ नहीं रह गया है !! और न ही मीडिया पक्षपाती क्यों है ,ये किसी से छिपा है !!नया काम तो सरकारी स्वमी और द्विग्विज्य सिंह के सगे भाई अग्निवेश ने किया है, वो " आर्यसमाज " के पवित्र - मन्त्र उन बालाओं को सुना कर सुधारना चाहते हैं जिन्हें उनके माँ-बाप और गुरु जन नहीं सुधार पाए ....???? जिन्हें पैसा ही उल-जलूल हरकतें करने का मिला है ??? कल एन.डी.टी.वी.की बहस में एक महिला बहस करती हुई यंहा तक कह गयीं की इनका बस चले तो पैसे वाले या बिग - बॉस वाले बाथरूम   में भी केमरे लगवा देवें !! विश्व के कई देशों में रात को ब्लू - फिलम भी चलती है ...वो भी चलवा दो ...?? कईयों को तो ये भी सभावना नज़र आती है कि स्वामी जी सच मुच उन लड़कियों को सुधार ही देंगे ?? इतना आशा वादी होना भी ठीक नहीं है ||  सरकार के पास हर प्रकार के पुर्जे उपलब्ध हैं जिनका वो समय - समय पर उपयोग करती है , उन में से ये " स्वामी अग्निवेश " भी एक है !!  अब तो जय राम जी की बोलना ही पड़ेगा ....बोलो ....जय ....श्री  ....राम ...!!!  

No comments:

Post a Comment

"क्या तीन तलाक़ से तलाक़ हो पायेगा"? - पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक)

ना जाने किसकी प्रेरणा मुस्लिम महिलाओं को मिली , तीन तलाक़ से पीड़ित कई महिलाएं न्यायालय की शरण में चली गयीं !पीड़ित तो वे कई  समस्याओं से भी व...