Wednesday, November 28, 2012

" क्या करेगा .....आम आदमी "( mango-man ) ...? ?

मेरे प्यारे "मेंगो-मैन" और वुमन मित्रो, मीठा मीठा आफ्सीज़न वाला प्यार भरा नमस्कार !!
 कृपया स्वीकार कीजिये !!!!
    राष्ट्रीय-दामादश्री वाड्रा जी ने एकदम सही फ़रमाया था कि ये देश " बनाना - रिपब्लिक " है और यंहा का निवासी " मैंगो-मैन " !! यानि " अंधेर नगरी - चोपट राजा " !! यंहा के लोगों को मूर्ख बनाना कितना आसान है, इसके उदाहरण नित नए-नए सामने आते रहते हैं !! तभी तो हम सेंकडों सालों तक गुलाम रहे !!आज़ाद होने के बाद सुनने में आता है कि हमारे नेताओं ने " आंबेडकर " जी के नेतृत्व में एक नए " संविधान " का निर्माण किया,जिसका " एहसान " हम कभी नहीं उतार पायेंगे ??? जिस प्रकार हम पिछले 67 सालों से आरक्षण देकर एक भी व्यक्ति को " स्वर्ण " नहीं बना सके !!??
               कुछ विद्वान लोग  तो                                     कहते हैं कि 95% हमारा संविधान अंग्रेजों वाला ही है !!?? जो आज के " अमीरों " की ही रक्षा करता है !!?? मेरे एक मित्र ने एक घटना मेरे साथ सांझी की है, वो मैं आपको भी बता रहा हूँ....
                   Kumar Sauvirposted toPancham stambh
जी हां,
दिल्‍ली के बालकराम इलाके की शिक्षिका उमा खुराना की जिन्‍दगी सुधीर चौधरी और उसके गुर्गों ने खराब ही दी थी। सुधीर तो आज जेल में है, जबकि उसका एक गुर्गा हिमाचल प्रदेश के मुख्‍यमंत्री के बेटे के साथ देशभक्ति यात्रा चला रहा है। दिलचस्‍प बात तो यह है कि सुधीर चौधरी के करीबी संबंध उस नवीन जिंदल से रहे हैं जिनकी शिकायत पर ही सुधीर आज जेल के सींखचों में हैं।
करीब दो साल पहले की बात है। दिल्‍ली के इतिहास में इससे बड़ा हादसा शायद ही कोई रहा होगा, जब पत्रकारिता के नाम पर एक शिक्षिका को लेकर पूरा शिक्षा-जगत तड़प गया।
मामला कुछ यूं रहा।
बताते हैं कि बालक राम इलाके में रहने वाली एक भद्र शिक्षिका उमा खुराना के मकान पर किरायेदारी को लेकर एक विवाद चल रहा था। यह किरायेदार भी महिला ही थी जिसके संबंध लाइव-टीवी के रिपोर्टर प्रकाश सिंह से थे। जानकारों के मुताबिक प्रकाश सिंह की मदद पुलिसवालों और स्‍थानीय गुंडों से लेकर की गयी ताकि उमा खुराना को नीचा दिखाया जाए। एक अन्‍य सूत्र के मुताबिक इसी बीच इस चैनल के बड़े पत्रकारों ने हस्‍तक्षेप किया और उमा से लड़कियां सप
्‍लाई करने के साथ ही रकम उगाहने की साजिश की गयी। लेकिन उषा ने ऐसी ओछी मांग को ठुकरा दिया।
लेकिन इसके बाद तो उस पर जैसे बादल ही फट गया। प्रकाश ने फर्जी फुटेज हासिल कर उसे उमा की फोटोज और उसकी गतिविधियों पर मैनेज कर दिया। लो, बन गयी एक स्टिंग रिपोर्ट।
खुलासा किया गया कि उमा ऐसी शिक्षक-कुलंक है जो अपने स्‍कूल की लड़कियां देह-व्‍यापार के लिए सप्‍लाई करती है। हंगामा हो गया। उमा की जगह-जगह पिटाई की गयी। मारपीट-तोडफोड़ हुई। उसकी नाक काटने तक का प्रयास किया गया। उसके बच्‍चों का नाम स्‍कूल से काट दिया गया और उमा खुराना को उसके स्‍कूल से निकाल बाहर किया गया।।
हालांकि, बाद में पुलिस जांच में यह पूरा मामला फर्जी निकला। फर्जी खबर फ्लैश करने के आरोप में सरकार ने उस चैनल को बंद करा दिया। लेकिन उमा की छीछालेदर जितनी हो सकती थी, वह तो हो ही चुकी थी, तब तक। उधर प्रकाश सिंह हिमाचल के मुख्‍यमंत्री के बेटे के नेतृत्‍व में रैली-यात्रा का दायित्‍व प्रकाश को मिल गया जो अब हेलीकॉप्‍टर से घूम रहा है।
उधर, सुधीर चौधरी का ढीहा नवीन जिंदल ने सम्‍भाल दिया। सारे सुख-साधन मुहैया कराये नवीन ने चौधरी को। लेकिन आज उसी चौधरी ने जिंदल को ही डस लिया।
                                                            मैं खाप नहीं हूं कि कोई पत्रकारिता के नाम पर कुछ भी करे और मैं उनकी रक्षा में, उनके पक्ष में बाप बनकर खड़ा हो जाउं. जिन्हें पत्रकारिता का मानक संपादक दिखाने की कोशिश की जा रही है और जिनकी गिरफ्तारी पर रोया जा रहा है. वो राजद्रोह के लिए, सत्ता के ख़िलाफ़ मुखर होने के लिए और जनहित में पूंजी की चतुरंगिणी सेना से नहीं जा भिड़े थे और न ही उसके लिए हिरासत में हैं. दलाली और सौदेबाज़ी ने पत्रकारिता को कोठे पर बैठा दिया है. मालिक के सामने इतने विवश हैं तो मूंगफली बेचना शुरू कर दीजिए. केंचुए की तरह घिसट-घिसटकर मत चलिए और न सियारों की तरह बिरादरी पर खतरे का सायरन बजाइए - पाणिनी आनंद
प्यारे दोस्तो,सादर नमस्कार !! ( join this grup " 5th PILLAR CORROUPTION KILLER " )
आप जो मुझे इतना प्यार दे रहे हैं, उसके ल िए बहुत बहुत धन्यवाद-शुक्रिया करम और मेहरबानी ! आप की दोस्ती और प्यार को हमेशां मैं अपने दिल में संजो कर रखूँगा !! आपके प्रिय ब्लॉग और ग्रुप " 5th pillar corrouption killer " में मेरे इलावा देश के मशहूर लेखकों के विचार भी प्रकाशित होते है !! आप चाहें तो आपक
े विचार भी इसमें प्रकाशित हो सकते हैं !! इसे खोलने हेतु लाग आन आज ही करें :-www.pitamberduttsharma.blogspot.com. और ज्यादा जानकारी हेतु संपर्क करें :- पीताम्बर दत शर्मा , हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार, पंचायत समिति भवन के सामने, सूरतगढ़ ! ( जिला ; श्री गंगानगर, राजस्थान, भारत ) मो.न. 09414657511.फेक्स ; 01509-222768. कृपया आप सब ये ब्लॉग पढ़ें, इसे अपने मित्रों संग बांटें और अपने अनमोल कमेंट्स ब्लाग पर जाकर अवश्य लिखें !! आप ये ब्लॉग ज्वाईन भी कर सकते हैं !! धन्यवाद !! जयहिंद - जय - भारत !! आप सदा प्रसन्न रहें !! ऐसी मेरी मनोकामना है !! मेरे कुछ मित्रों ने मेरी लेखन सामग्री को अपने समाचार-पत्रों में प्रकाशित करने की आज्ञा चाही है ! जिसकी मैं सहर्ष आज्ञा देता हूँ !! सभी मित्र इसे फेसबुक पर शेयर भी कर सकते है तथा अपने अनमोल विचार भी मेरे ब्लाग पर जाकर लिख सकते हैं !! मेरे ब्लाग को ज्वाईन भी कर सकते है !!
आपका मित्र
पीताम्बर दत्त शर्मा 

No comments:

Post a Comment

"अब कि बार कोई कार्यकर्ता ही हमारा जनसेवक (विधायक) होगा"!!

"सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र की जनता ने ये निर्णय कर लिया है कि उसे अब अपना अगला विधायक कोई नेता,चौधरी,राजा या धनवान नहीं बल्कि किसी एक का...