Saturday, June 8, 2013

"आज मैं बीमार हो गयी/गया हूँ "....!!?? सब गोल माल है !!

सदा स्वस्थ रहने वाले मेरे प्रिय मित्रो ! सादर नमस्कार स्वीकार कीजिये ! और मुझे स्वस्थ रहने का आशीर्वाद दीजिये !!! धन्यवाद !!
           गोवा में भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक क्या शुरू हुई कि मिडिया के मज़े लेने का जैसे " मानसून " आ गया हो !! क्या नहाया जा रहा है और क्या धोया जा रहा है !! भई वाह हमें भी पूरा स्वाद आ रहा है !!!! कोई खिचड़ी खा कर बीमार हो गया तो कोई " बाईट " लेने वाले रिपोर्टर से ही पूछ रहा है कि मैं हस्पताल जाऊं या नहीं !! ऐसी मनोरंजक फिल्म कोई निर्माता किसी भी अदाकार या अदाकारा को लेकर करोड़ों खर्च करके भी नहीं बना सकता जी !!! मैं शर्त लगा सकता हूँ आपसे !!!
          मीटिंग में किस विषय पर क्या निर्णय हुआ,पाकिस्तान बार्डर पर क्या हुआ और देश के अन्य भागों में क्या - क्या हुआ मिडिया को उससे कोई मतलब नहीं है !! मिडिया तो बस ये जानने में लगा है कि भाजपा प्रधानमंत्री किसे बनाएगी ???? बस !!
दुसरे दलों से कोई ये प्रश्न पूछता ही नहीं क्यों ?????????????? U.P.A.के सभी घटक दलों के नेताओं की इस प्रश्न पर जैसे जुबान ही बंद हो गयी है !! कोई नेता कोंग्रेस्सियों के किसी निर्णय पर बोलता ही नहीं कि अच्छा है या बुरा !!!!क्यों ???
             सभी चेनलों के एंकरों ने अपने माईंड में सभी दलों के नेताओं के प्रति एक अच्छा या बुरा चित्र बना रख्खा है जिससे वो कभी बाहर निकलना ही नहीं चाहते मसलन 1984के सिख दंगों के सन्दर्भ में कांग्रेस बार बार स्पष्ट कर चुकी है कि न्यायालयों में केस चल रहे हैं , दोषियों को अवश्य दंड दिया जायेगा !! लेकिन ये मिडिया वाले फिर भी कोंग्रेस को ही दोषी मानते हैं आज तक !! ( माफ़ी चाहता हूँ , मैंने जान बूझ कर उद्धारण गलत दिया है ) !!वैसे ही नरेंदर मोदी को दंगों हेतु आज तक ये एंकर दोषी मानते ही आ रहे हैं कितनी बार बहस में शामिल लोग इन्हें समझा चुके - बता चुके लेकिन ये हैं कि इनकी गाडी तो जन्हा अटक गयी वंहा ही अटकी है आज तक !! क्यों ...????


            जैसे हमें ये नहीं पता कि राष्ट्रपिता हमारे कब और कैसे बने, चाचा नेहरु हमारे चाचा कब बने, हमारा इतिहास कब और क्यों बदल दिया गया और भारत के वासी ही भारत के दुश्मन क्यों बन जाते हैं ????वैसे ही क्रिकेट भारत का खेल कब और क्यों बना ,?इसमें खेलने वाले भारत का नेत्रित्व कबसे और क्यों करने लगे ,? B.C.C.I. को अरबों रुपयों की रियायतें कब और क्यों दी जाने लगीं ,?कोई आम आदमी तो नहीं जानता ,ये राजनितिक दलों की " खिचड़ी " अवश्य जानती होगी और ये मिडिया भी अवश्य जानता होगा !!
             सब "गोल-माल " है भाई सब गोल माल है !!
             आप क्या सोचते हो इस विषय पर जनाब !! ???बताइए ना !!
        आपका अपना - पीताम्बर दत्त शर्मा 
             CURRENT- AFFAIRES WRITER , " 5TH PILLAR CORROUPTION .KILLER" इंटरनेट के सभी माध्यमों पर लिखते - पढ़ते कब 4वर्ष पूरे हो गए पता ही नहीं चला !! आप मेरे ब्लॉग "5th pillar corruption killer"जिसका लिंक ये है :-www.pitamberduttsharma.blogspot.com. को इतना महत्त्व दे रहे हैं कि मैं आप के प्यार में अभिभूत हुआ पाता हूँ अपने आपको !! मैं अपने मित्रों की रचनाएँ भी पसंद आने पर आप सबके संग ब्लॉग के साथ साथ गूगल +,मेरे पेज़, फेसबुक और उसके कई ग्रुप्स में भी शेयर करता हूँ !! जिन्हें आप सेंकडों की गिनती में रोज़ाना पढ़ते है , लाईक करते हैं और अपने अनमोल कोमेन्ट्स भी लिखते हैं !! जिन्हें मैं आपके आशीर्वाद के रूप ग्रहण कर दिशा निर्देश पाता हूँ !! मुझे आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि आपका प्यार ता उम्र मुझे इसी प्रकार से मिलता रहेगा !!
हम इस अपने ब्लॉग में आन - लाईन चेनेल और न्यूज़ वेबसाइट भी शुरू करना चाहते हैं !! इस कार्य में भागिदार बनने के इच्छुक मित्र हमसे शीघ्र संपर्क करें !
पीताम्बर दत्त शर्मा, हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार , सूरतगढ़ . फोन न. -01509-222768,मो.+919414657511.
आप सबको ढेर सारी शुभकामनाएं !!सदा प्रसन्न रहें !! नए मित्र शीघ्र अपनी फ्रेण्ड-रिक्वेस्ट भेजें !! 

No comments:

Post a Comment

प्रेस की स्वतंत्रता के नाम पर अपराधियों के संरक्षण का अड्डा बनता जा रहा है प्रेस क्लब! प्रेस क्लब (PCI) की कुछ प्रेसवार्ताओं, बैठकों, गत...