Friday, March 22, 2013

" क्या इटली सोनिया जी की धमकी से डर गया "…???

WEL-COME IN " INDIA " !! 
                   इटालियन सैनिकों की वापसी पर खुशियाँ मत मनाइए .... भारत सरकार ने इटली के आगे झुकते हुए इटली की सारे नाजायज मांगे स्वीकार की तब जाकर इटली ने अपने सैनिको को भारत भेजा.... 

इटैलियन नौसैनिकों की वापसी को लेकर लग रहा था कि भारत की आक्रामक कूटनीति के सामने इटली झुक गया है, लेकिन हकीकत कुछ और ही है। कई शर्तें मनवाने के बाद इटली ने अपने दोनों नौसैनिकों को भारत रवाना किया है। विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने शुक्रवार को खुद लोकसभा को बताया कि नौसैनिकों को वापस भारत लाने के लिए सरकार ने क्या- क्या वादे किए हैं।
विदेश मंत्रलाय के सचिव स्तर को तीन अधिकारी गुपचुप रूप से इटली गए थे और इटली सरकार की हर मांगो को भारत सरकार को भेजा,

फिर प्रधानमंत्री आवास पर एक आपात बैठक में इन मांगो पर केबिनेट में चर्चा हुई जिसे कैबिनेट ने स्वीकार कर लिया ..

भारत सरकार ने इन मांगो को स्वीकार किया है --

१- सैनिको को फांसी की सजा नही होगी..

२-पांच साल से ज्यादा जेल की सजा नही होगी..

३-सुनवाई के दौरान सैनिक जेल में नही बल्कि इटली के दूतावास में रहेंगे..

४- अगर इन्हें जेल की सजा होती है तो ये सजा जेल में नही बल्कि गेस्टहाउस में काटेंगे..

५- सैनिको को हर तरह की सुखसुविधा जैसी एसी, फ्रिज, टीवी, मोबाइल फोन आदि मिलेंगी..

६- इटली के कानून के मुताबिक कैदियों को भी अपनी पत्नियों से सेक्स सम्बन्ध बनाने का अधिकार है इसलिए इनकी पत्नियों को भी इनके साथ सेक्स सम्बन्ध बनाने का अधिकार रहेगा..

अब बताइए मित्रों, कौन किसके आगे झुका ? इटली भारत के आगे या भारत इटली के आगे ?

वैसे इटालियन बार- बाला सोनिया अपने मायके वालों पर इतना जल्दी फंदा कस जाने दे ये तो पहले से ही संदेह के घेरे में था, पर अब और पुख्ता हो गया कि किन शर्तों पर सोनिया डायन ने इनको भारत वापस बुलाया है, ताकि नाक भी बची रहे और जनता के बीच नम्बर भी लग जाएँ..

अधिक से अधिक शेयर करें..

जय हिन्द..
 
इटालियन सैनिकों की वापसी पर खुशियाँ मत मनाइए .... भारत सरकार ने इटली के आगे झुकते हुए इटली की सारे नाजायज मांगे स्वीकार की तब जाकर इटली ने अपने सैनिको को भारत भेजा.... 

इटैलियन नौसैनिकों की वापसी को लेकर लग रहा था कि भारत की आक्रामक कूटनीति के सामने इटली झुक गया है, लेकिन हकीकत कुछ और ही है। कई शर्तें मनवाने के बाद इटली ने अपने दोनों नौसैनिकों को भारत रवाना किया है। विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने शुक्रवार को खुद लोकसभा को बताया कि नौसैनिकों को वापस भारत लाने के लिए सरकार ने क्या- क्या वादे किए हैं।
विदेश मंत्रलाय के सचिव स्तर को तीन अधिकारी गुपचुप रूप से इटली गए थे और इटली सरकार की हर मांगो को भारत सरकार को भेजा, 

फिर प्रधानमंत्री आवास पर एक आपात बैठक में इन मांगो पर केबिनेट में चर्चा हुई जिसे कैबिनेट ने स्वीकार कर लिया ..

भारत सरकार ने इन मांगो को स्वीकार किया है --

१- सैनिको को फांसी की सजा नही होगी..

२-पांच साल से ज्यादा जेल की सजा नही होगी..

३-सुनवाई के दौरान सैनिक जेल में नही बल्कि इटली के दूतावास में रहेंगे..

४- अगर इन्हें जेल की सजा होती है तो ये सजा जेल में नही बल्कि गेस्टहाउस में काटेंगे..

५- सैनिको को हर तरह की सुखसुविधा जैसी एसी, फ्रिज, टीवी, मोबाइल फोन आदि मिलेंगी..

६- इटली के कानून के मुताबिक कैदियों को भी अपनी पत्नियों से सेक्स सम्बन्ध बनाने का अधिकार है इसलिए इनकी पत्नियों को भी इनके साथ सेक्स सम्बन्ध बनाने का अधिकार रहेगा.. 

अब बताइए मित्रों, कौन किसके आगे झुका ? इटली भारत के आगे या भारत इटली के आगे ?

वैसे इटालियन बार- बाला सोनिया अपने मायके वालों पर इतना जल्दी फंदा कस जाने दे ये तो पहले से ही संदेह के घेरे में था, पर अब और पुख्ता हो गया कि किन शर्तों पर सोनिया डायन ने इनको भारत वापस बुलाया है, ताकि नाक भी बची रहे और जनता के बीच नम्बर भी लग जाएँ.. 

अधिक से अधिक शेयर करें.. 

जय हिन्द..




















क्यों मित्रो !! आपका क्या कहना है ,इस विषय पर...??
प्रिय मित्रो, ! कृपया आप मेरा ये ब्लाग " 5th pillar corrouption killer " रोजाना पढ़ें , इसे अपने अपने मित्रों संग बाँटें , इसे ज्वाइन करें तथा इसपर अपने अनमोल कोमेन्ट भी लिख्खें !! ताकि हमें होसला मिलता रहे ! इसका लिंक है ये :-www.pitamberduttsharma.blogspot.com.

आपका अपना.....पीताम्बर दत्त शर्मा, हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार , आर.सी.पी.रोड , सूरतगढ़ । फोन नंबर - 01509-222768,मोबाईल: 9414657511


No comments:

Post a Comment

सचमुच भारत का समाज एक अजीब समाज है। ********* ज्यादा दिन नहीं हुए, कोई तीन-साढ़े तीन साल पहले जब उस समय के शासक लूट के अनेक नए आयाम गढ़ ...