" काश्मीरी पण्डितों का क्यों आवश्यक है पुनर्वास काश्मीर में " …।????

 " भारत के सभी ब्राह्मणों को मेरा हार्दिक प्रणाम "!! क्या हम  अपने भाइयों को अपने पास नहीं ठहरा सकते भारत वासियों ???
  " काश्मीरी पण्डितों का क्यों आवश्यक है पुनर्वास काश्मीर में " …।????
                                    सरकार ने माना कि कश्मीर में कश्मीरी पंडितों को एक धमकीभरा पत्र मिला है जिसमें उन्हें एक सप्ताह के अंदर घाटी से चले जाने के लिए कहा गया है।

गृह राज्यमंत्री आरपीएन सिंह ने राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित जवाब में यह जानकारी दी। उन्होंने हालांकि कहा कि इस बात के कोई सबूत नहीं हैं कि पत्र उग्रवादी संगठनों की ओर से भेजा गया है।

सिंह ने बताया, जम्मू-कश्मीर सरकार से मिली सूचना के अनुसार, बडगाम के पंडित कॉलोनी शेखपोरा में डाक से धमकीभरा एक पत्र मिला है, जिसमें कश्मीरी पंडितों को एक सप्ताह के अंदर घाटी से चले जाने को कहा गया है। डाक में इस बात का कोई सबूत नहीं है कि यह पत्र उग्रवादी संगठनों की ओर से भेजा गया है। 

उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में एक प्राथमिकी दर्ज की गई है। घाटी में और प्रवासियों की कॉलोनियों के आसपास सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था की गई है, ताकि कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा सुनिश्चित हो सके। उन्होंने बताया कि घाटी में करीब 4000 कश्मीरी पंडित हैं।

दो दशक पहले आतंकवाद के चलते घाटी से 350,000 से अधिक कश्मीरी पंडित पलायन कर गए थे। 90 के दशक में कट्टरपंथी गुटों ने उन्हें सुनियोजित योजना के तहत अपने की जमीन से बाहर खदेड़ दिया था। घाटी से पलायन करने वाले कश्मीरी पंडित जम्मू और देश के अन्य इलाकों में विभिन्न शिविरों में रहते हैं।

दुर्भाग्यवश कश्मीरी पंडितों पर जब अत्याचार हो रहे थे तब सारे मानवाधिकार संघटन चुप्पी साधे बैठे रहे। मीडिया ने भी उनके साथ हो रही नाइंसाफ़ी की तरफ़ आंख मूंद ली।

पनून कश्मीर जैसे संगठन कश्मीरी पंडितों के पुनर्वास लिये अलग गृहस्थान (मातृभूमि) की मांग कर रहे है।

                    GOOD LUCK AND GOOD WISHES !! प्रिय मित्रो, ! कृपया आप मेरा ये ब्लाग " 5th pillar corrouption killer " रोजाना पढ़ें , इसे अपने अपने मित्रों संग बाँटें , इसे ज्वाइन करें तथा इसपर अपने अनमोल कोमेन्ट भी लिख्खें !! ताकि हमें होसला मिलता रहे ! इसका लिंक है ये :-www.pitamberduttsharma.blogspot.com.

आपका अपना.....पीताम्बर दत्त शर्मा, हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार , आर.सी.पी.रोड , सूरतगढ़ । फोन नंबर - 01509-222768,मोबाईल: 9414657511

Comments

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????