Saturday, August 15, 2015

"अब निचले स्तरों पर फैले अस्मंजसों को मिटाना और हर पद के कार्य को स्पष्ट करना होगा माननीय मोदी जी " !!

माननीय प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी ने आखिर अपना लालकिले से दूसरा भाषण दे ही दिया ! बहुत से लोग आशावादी सोच के साथ प्रतीक्षा कर रहे थे उनके इस भाषण की , उन्हें पूर्ण संतुष्टि भी मिली उनका भाषण सुन कर ! ऐसे लोगों को ये निम्न बातें बहुत पसंद आयीं :- 
1. "टीम इण्डिया" में प्रधानमंत्री जी ने देश के हर नागरिक को ना केवल शामिल किया बल्कि देश की तरक्की में भी सबका योगदान बताया जो सराहनीय बात है !
2. अपने एक वर्ष पहले किये वादे उनको स्पष्ट ना केवल याद थे, बल्कि उन वादों को वो कितना पूरा कर पाये , ये भी बताया ! जो की एक नयी परंपरा है !
3. उच्च स्तर पर भ्रष्टाचार दूर करने हेतु प्रयास और नए स्त्रोतों से देश की आय बढ़ाना भी उनकी सरकार का एक बड़ा काम है !
4. काले धन , निचले स्तर के लोगों की चिंता ,पूर्वोत्तर राज्यों का विकास ,युवाओं की व्यर्थ इन्टरव्यू बंद करने,सैनिकों को "वन रैंक वन पेंशन"लागू करने का आश्वासन देना , युवाओं को "स्टार्ट-अप" कार्यक्रम के तहत काम करने हेतु लोन देना और किसानों के हित हेतु मंत्रालय  बदलकर ज्यादा कारगर बनाना , ये दर्शाता है कि उनकी नज़र बड़ी बारीकी से सभी समस्याओं को देख रही है ! बस देखना ये है कि कौन सी समस्या पहले और कौन सी बाद में हल होगी और ये कितना समय लेंगी !
                           अब बात करते हैं उनकी जिनका ज़िक्र प्रधानमंत्री जी ने बड़ी ही चतुराई से अपने भाषण में कर दिया ! पहले तो उन्होंने राजीव गांधी जी को निशाना बनाया जो अपने भाषण में " देखेंगे-देखा है" जैसे शब्दों का बड़ा प्रयोग करते थे ! मोदी जी ने कहा की हम करके दिखाते हैं ! दूसरा उन्होंने उन पत्रकारों, विश्लेषकों और एंकरों को अपना निशाना बनाया जो अपने काम  मर्यादा,जिम्मेदारी को भूल कर एक अच्छे काम में भी " मीनमेख "निकालने से बाज़ नहीं आते , जिसकी वजह से देश के दुश्मनों को उनका फायदा पंहुच जाता है !
                              आज के भाषण के बाद भी ऐसे ने पहले तो जाकर पूर्व सैनिकों को भड़काया और फिर उसे अपने चेनेल का समाचार बनाया ! इतना ही नहीं  अपने आपको "निराशावादी"माना भी चाहे हँसते हुए ही ! बिलकुल वैसे ही जैसे कोई ढीठ आदमी जूते खाकर भी हँसता है !अचरज तो तब हुआ कि जब ndtv के रविश कुमार ने यहाँ तलक कह दिया कि प्रधानमंत्री कोम्युनल घटनाओं के बारे में नहीं बोले , जबकि ला एंड ऑर्डर की जिम्मेदारी तो राज्य सरकारों की होती है ! यानिकि उनकी नज़र में देश के अंदर हो रहे हर बुरे काम हेतु मोदी जी जिम्मेदार हैं और अच्छे कामों हेतु कोई और !इनकी सोच को अब बदला नहीं जा सकता , "उतरी कोरिया जैसा इन्साफ " ही इन लोगों को सुधार सकता है !
                          लेकिन माननीय प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी को "अब निचले स्तरों पर फैले अस्मंजसों को मिटाना और हर पद के कार्य को स्पष्ट करना होगा"!!जैसे किसकी वजह से सब्जियाँ , राशन,कपडे,जूते,दवाइयाँ,बिजली-पानी और मूलभूत वस्तुएं जनता को महँगी मिल रही हैं ?? आखिर किन वजहों से आम आदमी को दफ्तरों के चक्कर काटने और रिश्वत देनी पड़ती है ?? क्यों निर्माता और होलसेलर जब चाहें -जितना चाहें ,अपने उत्पाद का दाम बढ़ा लेते हैं ? इससे सरकार की बदनामी और जनता को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है !
                            आखिरी बात मैं आपको ये  बताना चाहता हूँ प्रधानमंत्री जी कि चाहे पाइवेट काम हो या सरकारी ,लेकिन उसके काम में कोई स्पष्टता नहीं है ! कहीं कोई व्याख्या नहीं है कि किस पद वाले आदमी को क्या करना है !इसलिए हर कोई कार्यालय में बस समय व्यतीत करने आता है !उदाहरण के तौर पर ,प्राइवेट कार्यों में जैसे जनता को "पत्रकार" के काम का नहीं पता, कि वो क्या कर सकता है  नहीं ??वो जब चाहें संवाददाता बन जाते हैं और जब चाहे tv एंकर !! और भी ना जाने क्या क्या ???
                      मोदी जी !! देश की तरक्की में जो भी आड़े आये, चाहे फिर वो कोई राजनितिक दल हो या कोई पत्रकार या विश्लेषक-विशषज्ञ , ये सुधरने वाले नहीं हैं !!पूरे देश में इस प्रजाति के केवल पांच-सात सौ लॉग ही हैं ! इनका तो " सलीके " से ही समझाना होगा ! बाकी आप समझदार हैं !   आइये मित्रो ! आपका स्वागत है !आपके लिए ढेर सारी शुभकामनाएं ! कृपया स्वीकार करें !फिफ्थ पिल्लर करप्शन किल्लर नामक ब्लॉग में जाएँ ! इसे पढ़िए , अपने मित्रों को भी पढ़ाइये शेयर करके और अपने अनमोल कमेंट्स भी लिखिए इस लिंक पर जाकरwww.pitmberduttsharma.blogspot.com. है !इसे आप एक समाचार पत्र की तरह से ही पढ़ें !हमारी इ-मेल आई. डी. ये है - pitamberdutt.sharma@gmail.com. f.b.id.-www.facebook.com/pitamberduttsharma.7 . आप का जीवन खुशियों से भरा रहे !इस ख़ुशी के अवसर पर आपको हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !!
आपका अपना - पीताम्बर दत्त शर्मा -(लेखक-विश्लेषक), मोबाईल नंबर - 9414657511 , सूरतगढ़,पिनकोड -335804 ,जिला श्री गंगानगर , राजस्थान ,भारत ! इस पर लिखे हुए लेख आपको मेरे पेज,ग्रुप्स और फेसबुक पर भी पढ़ने को मिल जायेंगे ! धन्यवाद ! आपका अपना - पीताम्बर दत्त शर्मा , ( लेखक-विश्लेषक) मो. न. - 9414657511
                   
                                                          

  

No comments:

Post a Comment

2014 की कॉरपोरेट फंडिग ने बदल दी है देश की सियासत !!

चुनाव की चकाचौंध भरी रंगत 2014 के लोकसभा चुनाव की है। और क्या चुनाव के इस हंगामे के पीछे कारपोरेट का ही पैसा रहा। क्योंकि पहली बार एडीआर न...