"मैडम सुमित्रा महाजन ने अपनी क्लास (संसद) से बाहर किये 25 शरारती बच्चे (सांसद)"!! - पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) मो. न. - 9414657511

"संयम - धैर्य"की परीक्षा ले रहा विपक्ष संसद में आज उस वक़्त अचंभित रह गया ,जब लोकसभा की अध्यक्षा श्रीमती सुमित्रा महाजन जी को कोंग्रेसी सांसदों के हुड़दंग ने उनके "नाक तक पानी"कर दिया ! कभी संसद की वेल में आ जाना शोर मचाते हुए ! तो कभी पोस्टर दिखाना पिछले 10 दिनों से लगातार जारी था !
                        मैडम सोनिया जी और युवराज राहुल गांधी ने अपने सांसदों को समझा रख्खा था कि "मोदी सरकार को कोई काम नहीं करने देना है "!! उसी का नतीजा था कि बार-बार सर्वदलीय बैठकें बुलाये जाने , हर विषय पर चर्चा का आश्वासन देने के बाद भी उनके कानों तक जूँ तक नहीं रेंगी !मजबूरन ये कार्यवाही लोकसभा अध्यक्षा जी को करनी ही पड़ी !
                        अब ये चतुर सुजान ये शोर मचाएंगे कि विरोध करने की परम्परा तो पुरानी है जी , मैडम को " थोड़ा " सबर करना चाहिए था ! भाजपा भी विरोध करती थी और स्वयं सुमित्रा महाजन जी भी !तो हमें इतनी बड़ी सज़ा क्यों ? सच ये है कि कांग्रेस के हर काम में एक विशेष प्रकार की "कुटिलता"भरी होती है ! जो अब जनता को भली-भाँती समझ आने लगी है ! इसी का नतीजा ये है कि जहां-जहां राहुल और सोनिया जी वोट मांगने जाएंगे वहां-वहाँ उनकी पार्टी हारेगी ! उनकी स्वयं की जीत तो दुसरे दलों के "लिहाज़" के कारण होती है !
                       अब देखना ये है कि क्या इस छोटी सी सज़ा से कांग्रेस और अन्य विपक्षी दल कोई सबक सीखेगा या फिर देश को "पीछे" लेजाने की कार्यवाहियां इन देश-द्रोही राजनितिक दलों द्वारा जारी रख्खी जाएंगी ??मुझे नहीं लगता कि इस घटना से कांग्रेस के "उदंडी"सांसदों के व्यवहार में कोई अंतर आएगा !क्योंकि इनके पुराने सांसदों का भी कोई विशेष योगदान नहीं है संसदीय इतिहास में , बस !! सिफारशों से ही ईनाम पाये हुए हैं !
                          अरे यारो !! बहस करो !! प्रभावित करो !! और फिर किसी नतीजे पर पंहुचो ! क्या नाटक लगा रख्खा है ! बेशर्मो !! अफ़सोस है तुम जैसे नेताओं पर  !! " आक-थू !! इन हरामजादों को कोई नहीं समझा सकता !सिवाए मोदी जी के !! कब है 15 अगस्त ?? कब है 15 अगस्त " ??

                             मित्रो !!"5TH PILLAR CORRUPTION KILLER",नामक ब्लॉग रोज़ाना अवश्य पढ़ें,जिसका लिंक -www.pitamberduttsharma.blogspot.com. है !इसे अपने मित्रों संग शेयर करें और अपने अनमोल विचार भी हमें अवश्य लिख कर भेजें !इसकी सामग्री आपको फेसबुक,गूगल+,पेज और कई ग्रुप्स में भी मिल जाएगी !इसे आप एक समाचार पत्र की तरह से ही पढ़ें !हमारी इ-मेल ईद ये है - pitamberdutt.sharma@gmail.com. f.b.id.-www.facebook.com/pitamberduttsharma.7 . आप का जीवन खुशियों से भरा रहे !इस ख़ुशी के अवसर पर आपको हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !!
आपका अपना - पीताम्बर दत्त शर्मा -(लेखक-विश्लेषक), मोबाईल नंबर - 9414657511 , सूरतगढ़,पिनकोड -335804 ,जिला श्री गंगानगर , राजस्थान ,भारत !

Comments

  1. कांग्रेस के पास विरोध करने का कोई कारण नहीं है,यदि संसद की बैठक चले तो दोनों पक्ष अपनी बात रखें सुने तब ही देश का भला होगा , वरना ये राजनीतिक मुस्टंडे जनता के पैसे से सब्सिडी की रोटियां खा खा कर रोजाना वेतन लेते रहेंगे व हुड़दंग करते रहेंगे ,संसद के बाहर राहुल की मुस्कान ऐसी लग रही है जैसे कि वे एवं उनकी पार्टी कोई खेल खेल रही है ,बहुत ही शर्मनाक हालत है , जिस पर उनके नेता यह दावा और कर रहे हैं कि वे संसद का अधिवेशन चलाने के प्रति बहुत गम्भीर है , हजार लानत इन नेताओं पर,

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????