Monday, August 31, 2015

"काट खाये सैयाँ हमारो, चोरों सी सूरतिया पकड़ो नहीं जात "! - पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक) - मो. न. 9414657511

           "सैयाँ"मतलब हमेशां साथ देने वाला , चाहे फिर वो जीवन साथी हो,कोई दोस्त हो या कोई नेता ! सभी ये वादा करते हैं कि हम साथ निभाएंगे लेकिन नित नए "धोखे"जनता के सामने आ रहे हैं !जीवन का हर मोड़ खतरों से भरा पड़ा है !इतने "स्टाईल" से लोग अपना काम कर जाते हैं कि बेचारे धोखा खाने वाले को ये पता ही नहीं चलता,कब उसकी पीठ में छुरा घोंपा जा चुका है !सभी रिश्ते अपनी मर्यादा खोते जा रहे हैं ! इसीलिए आज मैंने ये शीर्षक बनाया है कि - "काट खाये सैयाँ हमारो, चोरों सी सूरतिया  पकड़ो नहीं जात "!
                        सभी राजनितिक दलों में सैंकड़ों की संख्या में ऐसे विधायक, साँसद एवं पदाधिकारी हैं जिन पर भारतीय क़ानून के मुताबिक अपराधिक मामले चल रहे हैं ! उनके सक्रिय कार्यकर्त्ता कितनी संख्या में अपराधी प्रकृति के हैं अगर कोई ये जांचने को निकल पड़े तो 60 %से भी ज्यादा ऐसे "कारीगर"लोग मिल जाएँगे , जो महत्वपूर्ण पदों पर बैठे हुए हैं !अचरज तो इस बात पर है कि कोई उन्हें हटाना भी नहीं चाहता !क्योंकि हाई-कमाण्ड जानता है कि जैसे ही ऐसे कार्यकर्ताओं को उनके पदों से हटाया गया तो स्वयं उनकी ऐश परस्ती बंद हो जाएगी !सादगी से रहने वाला नेता तो भूतकाल की बात हो गयी है ! नेता ही क्यों पहले तो सरकारी अफसर,पत्रकार,डाक्टर,मास्टर और पुलिस का काम करने वाले लोगों का जीवन भी इतना साधारण होता था कि अभिमान तो पैदा ही नहीं होता था !और आज हमारे लालू जी और चौटाला जी को ही देख लो अपराधी साबित हो जाने के बावजूद कैसे "भाषण"देते हैं और हम भी उनको डरकर "जी" बुलाते और लिखते हैं !
                           जनता भी अब इनके जैसी ही बनना चाहती है इसीलिए हर काम में शॉर्टकट ढूंढती है !अनैतिक रास्ते से भी इनको आज कोई परहेज़ नहीं है ! अभी दो दिन पहले एक लड़की को टीवी चैनल वालों ने ये कहते हुए दिखाया कि किसी लड़के ने चौक पर उससे बद्तमीजी करी , केजरीवाल साहिब ने उस लड़की को झट से 5 लाख रूपये देकर बहादुर घोषित कर दिया , पुलिस ने लड़के को धार्मिक उपदेश सुनाकर छोड़ दिया क्योंकि अपराध इतना बड़ा था ही नहीं ! लेकिन कल सोशियल-मीडिया पर तस्वीरें वायरल हो गयीं कि ये दोनों "आप"के सदस्य हैं और ndtv. के एक कार्यक्रम में रविश कुमार के साथ भाग ले रहे हैं !भगवान ही बचाये ऐसे नाटक बाज़ों से !सभी पार्टियां चुनावों में "क्या किया है?जो नहीं किया , वो क्यों नहीं किया गया ?और क्या करेंगे "?ये बताने की बजाये , पता नहीं क्या ऊल-जलूल बाके जा रहे हैं ! जनता ही सबक सिखाएगी अगर वो , जातिवाद, धार्मिक-उन्माद और इलाकेवाद के झांसे में ना फंसी तो ! जय राम जी की बोलना पड़ेगा !
                  




आइये मित्रो ! आपका स्वागत है !आपके लिए ढेर सारी शुभकामनाएं ! कृपया स्वीकार करें !फिफ्थ पिल्लर करप्शन किल्लर नामक ब्लॉग में जाएँ ! इसे पढ़िए , अपने मित्रों को भी पढ़ाइये शेयर करके और अपने अनमोल कमेंट्स भी लिखिए इस लिंक पर जाकरwww.pitmberduttsharma.blogspot.com. है !इसे आप एक समाचार पत्र की तरह से ही पढ़ें !हमारी इ-मेल आई. डी. ये है - pitamberdutt.sharma@gmail.com. f.b.id.-www.facebook.com/pitamberduttsharma.7 . आप का जीवन खुशियों से भरा रहे !इस ख़ुशी के अवसर पर आपको हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !!
आपका अपना - पीताम्बर दत्त शर्मा -(लेखक-विश्लेषक), मोबाईल नंबर - 9414657511 , सूरतगढ़,पिनकोड -335804 ,जिला श्री गंगानगर , राजस्थान ,भारत ! इस पर लिखे हुए लेख आपको मेरे पेज,ग्रुप्स और फेसबुक पर भी पढ़ने को मिल जायेंगे ! धन्यवाद ! आपका अपना - पीताम्बर दत्त शर्मा , ( लेखक-विश्लेषक) मो. न. - 9414657511

No comments:

Post a Comment

"क्या तीन तलाक़ से तलाक़ हो पायेगा"? - पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक)

ना जाने किसकी प्रेरणा मुस्लिम महिलाओं को मिली , तीन तलाक़ से पीड़ित कई महिलाएं न्यायालय की शरण में चली गयीं !पीड़ित तो वे कई  समस्याओं से भी व...