Friday, August 17, 2012

" फांसी पर चढाओ उनको, जिन्होंने कलमाड़ी जी को चोर कहा था " ???????

 " झूठे इल्जामों से बदनाम " हो चुके मेरे इमानदार मित्रो !! चमकदार सफाई वाला नमस्कार स्वीकारिये जी !                                                                                     आज कलथोडा सा आदमी कुछ बन जाये सही, बस पूछो मत जी, दोस्त कम - दुश्मन ज्यादा बन जाते हैं आदमी के !! ऐसा ही अपने कलमाड़ी जी के साथ हुआ

  है ! अगले  की सारी इज्ज़त मिटटी में मिलादी इन   इलेक्ट्रोनिक  मिडिया  ,प्रिंट मिडिया और सोशल  मिडिया  वालों   ने  !!!!?????        
                           c.b.i. वाले   अब कह  रहे   हैं   की   उनका कंही  नाम ही नहीं था !! वो तो बस ऐसे ही शोकिया जेलयात्रा कर आये थे !! ???
           आप भी अपने विचार लिखिए हमारे ब्लॉग पर जिसका नाम है " 5th pillar corrouption killer " और जिसका लिंक है  :- www.pitamberduttsharma.blogspot.com. हमारी बातें अच्छीं लगें तो शेयर भी अवश्य करें !!

No comments:

Post a Comment

"मीडिया"जो आजकल अपनी बुद्धि से नहीं चलता ? - पीताम्बर दत्त शर्मा {लेखक-विश्लेषक}

किसी ज़माने में पत्रकारों को "ब्राह्मण"का दर्ज़ा दिया जाता था और उनके कार्य को "ब्रह्मणत्व"का ! क्योंकि इनके कार्य समाज,द...