Friday, December 21, 2012

" भाजपा के नेताओ,सीख देने की बजाये,कुछ सीख लो "...!!!!

    प्यारे भाजपाइयो मित्रो, नमस्कार !!
  गुजरात में नरेंदर मोदी जीते और हिमाचल  में भाजपा हार गयी!!ये मैं खुले मन से  कबूल करता हूँ,लेकिन भाजपा के बड़े नेता इस बात को नहीं मानेंगे,और उन्हें मानना भी नहीं चाहिए,क्योंकि मित्रो वे बड़े नेता हैं भई ..!!और मैं एक अदना सा कार्यकर्त्ता ..?? वो बात अलग है कि सब मोदी जी के सामने जाकर चुनावों में हाजरी मात्र लगा रहे थे या कोई काम पूछ रहे थे ! ये इन चुनावों में शीशे की तरह साफ़ हो गया है कि अगर केंद्रीय भाजपा नेताओं में कोई जादू है ही नहीं ...!!!!
         कांग्रेसियों को किसी बुद्धिमान          ने ये राय दे दी,कि अगर चुनावों में जीतना है तो,"गुजरात-दंगों" को भूल जाओ..!! लेकिन "साँप"ज़हर उगलना भला कैसे छोड़े..??? यही हाल मीडिया और सेकुलरों का था !! " आजतक" वाले " सयाने " तो  " आजतक " लगे हुए हैं...!!बिगाड लो उनका जो चाहो??क्या बिगाडो गे....???
           2014 के चुनावों में अभी काफी समय पड़ा है....."मंदिर-वंदिर " छोड़ कर अपने कार्यकर्ताओं को " प्यार व मान-सन्मान " दो ताकि भाजपा जीत सके और आप जैसे बड़े नेताओं के हाथों इसदेश का कुछ भला हो सके !! मेरी तो यही प्रार्थना है मित्रो ....!!
          अन्यथा जो आज देश के हालात हैं , और अगर ऐसा ही चलता रहा , तो वो दिन दूर नहीं जब हर राजनितिक दलों के " भ्रष्ट " नेताओं को उनकी करनी का दंड तुरंत मिलने लगे...सीधे जनता-कार्यकर्त्ता द्वारा..!! फिर मुझे मत कहना की बताया या चेताया नहीं था.....!!!
         सभी  राजनितिक दलों से ये भी अनुरोध  है कि चंदे का भी अब हिसाब देना शुरू करो यारो....!!
            प्रिय मित्रो, आपका क्या कहना है ...इस विषय पर ......???? अपने विचार आप मेरे ब्लॉग पर , जिसका नाम है..:- " 5th pillar corrouption killer " जाकर लिख सकते हैं !! जिसको खोलने का लिंक ये है...
www.pitamberduttsharma.blogspot.com
. आप मेरे ये लेख फेसबुक , गूगल+ , ग्रुप और मेरे पेज पर भी पढ़ सकते हैं !!! आप मुझे अपना मित्र भी बना सकते हैं और मेरे ब्लॉग को ज्वाईन , शेयर और कंही भी प्रकाशित भी कर सकते हैं !!!! 

No comments:

Post a Comment

प्रेस की स्वतंत्रता के नाम पर अपराधियों के संरक्षण का अड्डा बनता जा रहा है प्रेस क्लब! प्रेस क्लब (PCI) की कुछ प्रेसवार्ताओं, बैठकों, गत...