Friday, July 26, 2013

" 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " ( फिफ्थ पिल्लर - करप्शन किल्लर ) का " तीसरा पन्ना " ! !

सूरतगढ़ के विधायक पद की " दौड़ " आ रही है नजदीक ,कईयों ने ट्रैक पर दोड़ना भी शुरू कर दिया तो कई , सपनो में ही लगा रहे हैं दौड़ !!
                                  * ----------------- *  
  समस्त रिपोर्ट द्वारा - पीताम्बर दत्त शर्मा ( राजनितिक - समीक्षक ) (मो.९४१४६५७५११, इमेल :- pitamberdutt.sharma@gmail.com)
      ( ब्लॉग लिंक : pitamberduttsharma.blogspot.com )
                                   सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र के मतदाता और विधायक पद पाने की इच्छा लिए प्रत्याशी , दोनों  अलग ही दुनिया में विचरण करते नज़र आ रहे हैं ! जंहा वोटर हर बार की तरह इस बार भी ये सपने फिर से देख रहा है कि कोई करिश्मा होगा , कोई अवतार आएगा और हम सब का जीवन सुखमय बना देगा ! अबकी बार जो विधायक बनेगा वो स्वयं के हितों को ना देख , जनता के हितों को सर्वोपरि मानेगा ! और उसमे सेवा भाव कूट-कूट कर भरा होगा एवं भ्रष्टाचार उसके पास भी नहीं फटकेगा  !! बेईमान - सत्ता लोलुप लोग उसके पास भी नहीं फटकेंगे !! लेकिन ……… क्या वास्तव में ऐसा होगा ??? आइये देखते हैं , आज के विधायक पद के दावेदारों पर एक सरसरी नज़र दौड़ाकर......
          1. श्री गंगाजल मील ( वर्तमान विधायक,कोंग्रेस पार्टी )
                          -------------------------------------------
                            श्री गंगाजल मील ने चुनाव जीतने के पश्चात् कई विद्यालय क्रमोन्नत करवा दिए , सिंग्रासर माईनर की घोषणा करवादी , शहर में स्टेडियम के निर्माण के साथ-साथ कई पार्क भी बनवा दिए , पुल का निर्माण भी जारी है सेंकडों रुकावटों के बावजूद ,कई सामुदायिक भवन और सड़कों का निर्माण भी करवाया है !! उनके द्वार पर अगर कोई प्रार्थी अपना कोई कष्ट लेकर पंहुचता है तो वो और उनकी अनुपस्तिथि में उनके सुपुत्र श्री महेन्द्र मील जी उसका कष्ट दूर करने का भरपूर प्रयास करते हैं ! उनकी पार्टी के कई पदाधिकारी भी उनके नयी धानमंडी में स्थित कार्यालय में बैठे रहते हैं , वो भी ऐसे ही प्रयास में रहते हैं की कोई भी आनेवाला प्रार्थी खाली हाथ वापिस न जाये !!
                         इसीलिए वो और उनके समर्थक मील जी को आगामी विधायक चुनावों में एक मज़बूत दावेदार मानते हैं , कई तो उनकी जीत भी सुनिश्चित मानते हैं !! लेकिन … क्या कारण हैं की फिफ्थ पिल्लर - करप्शन किल्लर द्वारा कराये गए सर्वे में वो दुसरे स्थान पर आये !! ये उन्हें और उनके समर्थकों को सोचना होगा एवं उन सभी कारणों को दूर भी करना होगा , ताकि जीत सुनिश्चित हो सके !! हमारी और से शुभकामनायें !!
                        कोंग्रेस पार्टी में मील जी के इलावा तीन प्रमुख दावेदार हैं जो अगले विधानसभा चुनावों में अपना दावा प्रमुखता से पार्टी हाई-कमान के सामने प्रस्तुत कर सकते हैं जैसे :- सरदार हरचन्द सिंह सिद्धू , सरदार परमजीत सिंह सिंह रंधावा और कोमरेड ( पूर्व ) बलराम वर्मा ! इनके इलावा ज़नाब इकबाल मोहम्मद कुरैशी और सरदार परमजीत सिंह बेदी जी भी कोशिश कर सकते हैं !!
                            श्री गंगाजल मील ने पिछले चार वर्ष छः माह में हजारों लोगों के काम करवाए होंगे , लेकिन जिनके कार्य नहीं हो पाए किसी कारणवश , वो लोग उनको आनेवाले चुनावों में नुक्सान पंहुचा सकते हैं ! क्योंकि अच्छाई के बजाये बुराई जल्दी फैलती है !! जैसे आज ही खबर आई कि मील साहिब ने अपने प्रयासों से माता जीतो जी कन्या महाविद्यालय को स्थायी मान्यता दिलादी , जिस हेतु उनका स्वागत किया गया लेकिन वो अपने कोलेज की मान्यता नहीं बचा सके जो कई मानकों के पूरा ना हो पाने के कारन से रद्द हो गयी !! नगर पालिका द्वारा कराये गए गलत कार्यों की वजह से भी उनको आगामी चुनावों में नुक्सान पंहुच सकता है !! शहर में कोई भी कार्यालय भ्रष्टाचार से मुक्त नहीं है , ये कालिख भी उनको ही उतारनी होगी !! किसी भी गलत काम का विरोध ना करना भी उनको भरी पड़ सकता है !! क्या केवल " गंगा +जल " के भरोसे चुनाव जीता जा सकता है ??? पूरे देश भर में जो कोंग्रेस पार्टी की बदनामी हो  केंद्रीय  नेताओं के क्रिया-कलापों द्वारा , वो क्या गुल खिलाएगी आने वाले विधान सभा चुनावों में , ये तो वक्त ही बताएगा !! यही वो सब कारन हैं जिनके असर से  वो अगला चुनाव हार भी सकते हैं !! भूमाफिया , ठेकेदार माफिया और काम कर देने के एवेज में पैसा बटोरने वाले दलालों की वजह से भी करारी मार, मील साहिब को झेलनी पद सकती है !! क्या इतने कम वक्त में अब सब ठीक किया जा सकता है या फिर समय निकल चुका है !!
                  2. श्री  डूंगर राम गैन्धर ( बसपा - प्रत्याशी )
                      ----------------------------------------------
                           श्री डूंगर राम जी गैन्धर पहले दो बार सूरतगढ़ से विधानसभा का चुनाव लड़ चुके हैं , अबकी बार फिर अपनी किस्मत आजमाना चाहते हैं !! प्रसिद्ध समाजसेवी हैं , स्नातक हैं और शादी भी नहीं की है !! वो कहते हैं कि जनता उनसे कहती है , जाटों के शिकंजे से मतदाताओं को मुक्त करवाओ , और वो  करवाना भी  चाहते हैं ! सभी जातियों को साथ लेकर चलना चाहते हैं ऐसा भी वो कहते हैं ! सारे विधानसभा क्षेत्र का दौरा एक बार कर भी चुके हैं जनता का भरपूर समर्थन भी उन्हें मिल रहा है !! बसपा के कार्यकर्ता भी जी-जान से साथ दे रहे हैं ! मेहनत का फल मीठा होता है !! कोशिश करते रहना चाहिए , सच्चे इंसान को कभी न कभी अवश्य सफलता मिलती है !! दौड़ शुरू है , शुभकामनायें !!
                     3. श्री अमित कडवासरा ( ज़मिन्दारा पार्टी )
                         ---------------------------------------------
                          श्री अमित कडवासरा कोंग्रेस के वरिष्ठ नेता श्री वेद कडवासरा के सुपुत्र हैं छात्र जीवन से  ही राजनीती में हैं अब विधानसभा चुनावों में सूरतगढ़ से अपना भाग्य आज़माना चाहते हैं ! मानकसर के निवासी हैं जो सूरतगढ़ के बिलकुल नजदीक है ! जोश उनमे कूट-कूट कर भरा है , विनम्र स्वभाव के हैं ! उनकी पार्टी भी नयी है ! जिले में श्री बी . डी. अग्रवाल क्या प्रभाव बना पाए है , ये भी पता लग जायेगा !! हम उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं !
                  4. भाजपा के बूढ़े और जवान घोड़े ( भावी - प्रत्याशी )
                      ------------------------------------------------------
                      सर्व श्री रामप्रताप कासनिया  , अशोक नागपाल,राजिन्द्र भादू जैसे बूढ़े चुनावी घोड़ों ( विधायक पद के दावेदार ) के इलावा भाजपा में आज सरदार शरणपाल सिंह मान, नरेंद्र घीनटाला , श्रीमती नीलम सांगवान , रजनी मोदी ,राजेश सिडाना, विजयेन्द्र पुनिया जैसे कई युवा विधायक पद की रेस में दौड़ में अपना नाम दावे से पेश कर रहे हैं !! वन्ही श्री मति आरती शर्मा को भी लोग भूल नहीं पाए हैं !! इसी लिए भाजपा का हाई-कमांड भी उहापोह की स्थति में है ! शायद इसी लिए जिलाध्यक्ष सरदार महेन्द्र सिंह सोढ़ी और नगर मंडल अध्यक्ष अपने दल-बल के साथ वसुंधरा जी से मिलकर कई बार प्रार्थना कर चुके हैं कि मैडम आप ही सूरतगढ़ से चुनाव लड़ लो , आपको तो हम या फिर सूरतगढ़ की जनता चुनाव जित्वा ही देगी और हमारी भी इज्जत बच जाएगी अन्यथा हम तो उप्तोक्त मैं से किसी को भी जीता नहीं पाएंगे !! क्योंकि जिसको भी पार्टी की टिकेट मिलेगी तो दूसरा निर्दलीय चुनाव अवश्य लड़ेगा जिस से पार्टी की हार निश्चित है !
                             भाजपा के संगठन पदाधिकारियों ने बड़े नेताओं के कार्यक्रम करवाने या पार्टी द्वारा समय-समय पर आह्वानो पर प्रदर्शन धरने आदि तो सिमित संख्या में कार्यकर्ताओं को इक्कठा कर किसी न किसी तरह से निपटा दिया है ! मैं उनकी इस म्हणत की प्रशंसा भी करता हूँ लेकिन ससाथ ही साथ ये भी अवश्य कहूँगा कि पार्टी के कार्यकर्ताओं को अपने साथ रखने के काम को भाजपा के पदाधिकारी नहीं कर पायें हैं !! यही कारन है की इतने दावेदारों के होते हुए भी भाजपा उनकी कार्यक्षमता को आम जनता के सामने नहीं रख पायी है !! जन्हा दुसरे प्रत्याशियों ने अपना सम्पर्क अभियान शुरू भी कर दिया है वन्ही भाजपा का न तो प्रत्याशी घोषित हुआ है और ना ही पार्टी ने कोई कार्यक्रम शुरू किये हैं ! यही कारन है की भाजपा चुनावी दौड़ में पीछे नज़र आ रही है !! फिफ्थ पिलर-करप्शन किल्लर द्वारा कराये गए सर्वे में श्री राजिन्द्र भादू प्रथम स्थान पर आये थे और श्री राम प्रताप कासनिया तीसरे स्थान पर रहे पिछले चुनाव की ही तरह !!
                                 अगर भाजपा ने जल्द अपने प्रत्याशी की घोषणा नहीं की तो जीती हुई दौड़ भी हार सकती है !! कार्यकर्ताओं को मनाकर एक करना , प्रत्याशी घोषित करते वक्त सभी दावेदारों को समझा-बुझा कर साथ रखना और संगठन द्वारा अपने कार्यकर्ताओं को पार्टी प्रत्याशी को जितने का स्पष्ट निर्देश देना , ये ऐसे कार्य हैं जो भाजपा के प्रत्याशी को आगामी विधानसभा चुनावों में जित दिल सकते हैं !! हमारी और से इनको भी शुभ कामनाये !! इलाका निवासियों , हम प्रत्येक सप्ताह इसी तरह सूरतगढ़ की राजनितिक और समसामयिक घटनाओं की रिपोर्ट आपके सामने सच्चाई से प्रस्तुत करते रहेंगे ! आप अपनी प्रतिक्रिया से हमें अवश्य अवगत करवाएं !! अगली बार हम आपकी प्रतिक्रियाएं भी इसी पन्ने पर प्रकाशित करेंगे !!
                          सधन्यवाद !!

                                                       आपका शुभ चिंतक मित्र ,
                                                          पीताम्बर दत्त शर्मा ,
                                                            ( लेखक व् समीक्षक )
                                                              मो- 9414657511
नोट :- आप हमारी ये रिपोर्ट और अन्य राष्ट्रीय सम-सामायिक विषयों पर लेख , हमारे ब्लॉग इस समाचार पत्र के इलावा  " 5th pillar corruption killer " , फेसबुक , गूगल और मेरे पेज पर भी पढ़ सकते हैं !!
                     *************************************
( कृपया सभी भावी उम्मीदवारों के चित्र भी लगायें )

                            विज्ञापन
                         ----------------
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार , पंचायत समिति के सामने , आर. सी . पी. रोड सूरतगढ़ . प्रो. ;- पार्थ सारथी पीताम्बर दत्त शर्मा ,
 हमारे यंहा हर प्रकार के प्रचार-कार्य , जॉब वर्क , डी . जे . साउण्ड,ओर्केस्ट्रा - पार्टी , अमूल आईसक्रीम , कोल्ड ड्रिंक , जूस एवं फोटो-स्टेट के साथ साईबर केफे की भी उचित मूल्यों पर व्यवस्था है !

 

No comments:

Post a Comment

"मीडिया"जो आजकल अपनी बुद्धि से नहीं चलता ? - पीताम्बर दत्त शर्मा {लेखक-विश्लेषक}

किसी ज़माने में पत्रकारों को "ब्राह्मण"का दर्ज़ा दिया जाता था और उनके कार्य को "ब्रह्मणत्व"का ! क्योंकि इनके कार्य समाज,द...