Saturday, August 10, 2013

" सूरतगढ़ नगर-पालिका के मोजूदा चेयरमैन इंजिनियर बनवारी लाल मेघवाल " से " एक मुलाकात " !!

उनके अनुसार नगर-पालिका सूरतगढ़ में , कोई भ्रष्टाचार नहीं , सभी निर्माण-कार्य निर्धारित मानकों के अनुरूप हैं ,विपक्षी पार्षदों ने भी भरपूर सहयोग दिया , आदि - आदि !! आप भी पढ़िए उनके उत्तर , जो उन्होंने पीताम्बर दत्त शर्मा के प्रश्नों के जवाब में दिए !!
प्रश्न :- आपको चेयरमेन पद सम्भाले कितना अरसा हो गया ??
उत्तर :- लगभग चार वर्ष होने को हैं ! 27-11-2009 को मैंने कार्यभार सम्भाला था !!
प्रश्न :- इंजीनियरिंग का अनुभव किन-किन कार्यों में काम आया ????
उत्तर :- जयपुर की " अर्नब्स विकास लि .ने सीवर की योजना के तहत नगर के पन्द्रह वार्डों में पेंतालिस ," बायोडाइजेस्टर " बनवाने थे ! जो सेफ्टी टेंक का बड़ा रूप होते हैं , जिनके लिए 50X50 फीट के खड्डे खोदे जाने थे !! जो संभव नहीं था !!  मैंने उसे बदलवाकर शहर को तीन  ज़ोन में बाँट दिया , और सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट ,सिस्टम को डबल करवा दिया  , जिस हेतु अस्सी करोड़ रूपये का बज़ट भी मैंने पास करवाया ! मेरे अनुभव से ही सीवरेज की गहराई भी कम हो पाई , जयपुर की योजना के मुताबिक तीस  फिट गहरी सीवर-लाईन  बिछाई जनि थी जो घटकर चार से पन्द्रह फीट गहरा रह गया !!
प्रश्न :- नगर पालिका के  कार्यालय में आप कितना समय देते हैं ??
उत्तर :- 4 से 10 घण्टे  तक उपलब्ध रहता हूँ !!
प्रश्न :- आपने अपने कार्यकाल में कभी नगर के बुद्धिजीवियों को बुलाकर किसी कार्य हेतु उनकी राय जाननी चाही  ????
उत्तर :- आवारा पशुओं की समस्या हेतु बुद्धिजीवियों की राय मांगी , जिसके अनुसार सौ बीघा ज़मीन पर एक गोशाला निर्माण का प्रस्ताव जिला कलेक्टर साहिब को भेजा , जो मंज़ूर नहीं हो पाया , फिर हमने पशु-चिकित्सालय में गोशाला शुरू की जिसमे कई संस्थाएं सहयोग कर रही हैं !! पांच लाख की तूड़ी नगर-पालिका की तरफ से दी गयी है !!
प्रश्न :- पार्षदों का व्यवहार आपके प्रति कैसा रहा ???
उत्तर :- मेरे द्वारा पेश प्रस्तावों को सभी पार्षदों ने हमेशां पास करवाया , " कंधे से कन्धा मिला कर सहयोग किया !!
प्रश्न :- कौन सा " फेविकोल " काम कर रहा था ???
उत्तर :- जन-हित की भावना वाला फेविकोल !! 300 से 500 वर्ग गज के ऊपर काबिज़ लोगों को पट्टे देने का प्रस्ताव हम सभी ने मिलकर पास किया , जो अभूतपूर्व था !
प्रश्न :- किसी पार्षद ने धृष्टता की हो कभी ???
उत्तर :- नहीं , ऐसा कोई अवसर नहीं याद आता !!
प्रश्न :- निर्माण-कार्य पूरे होने पर कभी आपने उसकी गुणवत्ता की जांच की है ???
उत्तर :- जी हाँ , बिल्कुल की है !! सभी कार्य पूरी गुणवत्ता से पूर्ण हुए हैं !!
प्रश्न :- नालियों और सड़कों का लेवल आप कैसे और कान्हा से चेक करवाते हैं ???
उत्तर :- क्योंकि पिछले पचास वर्षों से सड़कों व नालियों का लेवल गड़बड़ाया हुआ है , उसे सुधारने की कोशिश अवश्य की गयी है लेकिन पूरी तरह से लेबल दुरुस्त नहीं कर पाए हैं !!
प्रश्न :- निर्माण-कार्य , जी-शेड्यूल के मुताबिक हुए या नहीं , कभी कोई गड़बड़ी आपने पकड़ी या नहीं ???
उत्तर :- बजरी व सीमेंट के मिलान के अनुपात में कई बार गड़बड़ी पकड़ी गयी जिसे बाद में दुरुस्त करवा दिया गया ,पत्थर-ग्रिट कम डालने और घटिया ईंटों का प्रयोग भी पकड़ा गया , उसे भी ठीक करवा दिया गया !
प्रश्न :- कितने ठेकेदारों को ब्लेक-लिस्ट किया आपने ???
उत्तर :- चार ठेकेदारों को 6लाख का दंड लगाकर ब्लेक-लिस्ट किया ! दो साल हेतु उन्हें निविदा लेने से वंचित किया गया !
प्रश्न :- कभी आपने नगर-पालिका कार्यालय के कर्मचारियों को गलती करते  या कोई भ्रष्टाचार का केस पकड़ा है ???
उत्तर :- दूल्हा राम डूडी को दो-तीन बार पकड़ा जो अपनी डयूटी किसी दुसरे से करवाता था , एक बार माफ़ भी किया लेकिन दोबारा गलती करने पर उसे निलंबित किया गया !!
प्रश्न :- क्या आप ये दावा करते हैं की आपकी नगर-पालिका भ्रष्टाचार से मुक्त है ???
उत्तर :- विरोधी पक्ष ऐसा प्रचार करता रहता है , मेरी नज़र में नगर-पालिका सूरतगढ़ में एक पैसे का भी भ्रष्टाचार नहीं हुआ !!
प्रश्न :- आप इतने पार्क बनवा रहे हैं , इनका निर्माण-कार्य कब पूरा होगा , और इसका रख-रखाव कौन करेगा ??
उत्तर :- मेरे कार्यकाल समाप्त होते - होते निर्माण-कार्य पूरा हो जायेगा , रख-रखाव नगर-पालिका नहीं करेगी , ये जिम्मेदारी नागरिकों को ही निब्व्हानी पड़ेगी !!
प्रश्न :- लेकिन दुसरे शहरों  में तो रख-रखाव नगर-पालिका ही करती है ??


उत्तर :- नहीं जी , !
प्रश्न :- ओवर-ब्रिज और अंडर -ब्रिज की मौजूदा स्थिति क्या है ???
उत्तर :- दोनों जल्द पूरे हो जायेंगे !! विरोधियों ने रोकने की बहुत कोशिश की लेकिन वो सफल नहीं हो पाए !! अंडर - ब्रिज का कार्य भी जल्द शुरू हो जायेगा !नगर पालिका  निर्माण-कम्पनी का पूरा सहयोग करेगी !!
प्रश्न :- आप द्वारा की गयी कर्मचारियों की नयी-नियुक्तियों की स्थिति क्या है ???
उत्तर :- जो दलाल थे , उन्होंने नियुक्ति दिलाने के पैसे ले रख्खे थे , वो सफल नहीं हो पाए तथा उन्हें पैसे लौटाने पड़े !!वो विरोध बाल्मीकि समाज का नहीं बल्कि दलालों का विरोध था !

प्रश्न :- P.C.C.के सदस्य महेंद्र मील जी ने प्रदर्शनकारियों को आश्वासन दिया था कि पिछली नियुक्तियां रद्द करवाकर दोबारा से नयी नियुक्तियां करवाई जाएँगी , तभी तो प्रदर्शन स्थगित हुआ था ??
उत्तर :- ऐसा मेरी जानकारी में नहीं है !!
प्रश्न : - लेकिन शहर में तो चर्चा है कि आप में और मील जी में कोई झगडा हो गया था इन नियुक्तियों पर ????
उत्तर :- नहीं , हमारे बीच में कोई विवाद नहीं है !
प्रश्न :- सूरतगढ़ में करवाए गये निर्माण-कार्यों और जनहित के कार्यों को करवाने में आपकी भूमिका ज्यादा है या विधायक जी की भूमिका ज्यादा है ???
उत्तर :- शत-प्रतिशत इन कार्यों को करवाने में विधायक जी और  माननीय मुख्य-मंत्री जी की ही भूमिका है , मैं तो एक अदना सा स्वक मात्र हूँ !!
प्रश्न :- आपके कार्यकाल में लोकल कोंग्रेस संगठन का कितना सहयोग मिला आपको ???
उत्तर :- सभी का पूरा सहयोग मिला !!
प्रश्न :- आपने राजनितिक भविष्य की क्या योजना बनाई है ??
उत्तर :- जैसा हमारे माननीय मुख्यमंत्री जी और प्रदेश कोंग्रेस अध्यक्ष चाहेंगे !!
प्रश्न :- आगामी विधान-सभा चुनावों में आप सूरतगढ़ हेतु किसे कोंग्रेस का "सक्षम " उम्मीदवार मानते हैं ??
उत्तर :- श्री गंगाजल मील.....
प्रश्न :- अगर कोंग्रेस के किसी नियम के तहत ऐसा संभव नहीं हो पाया तो दूसरा कोई नाम आपके विचार से कौन ....???
उत्तर :- जिसे पार्टी चाहेगी !!
प्रश्न :- आप द्वारा करवाए  गए  मुख्य कार्य कौन - कौन से हैं ???
उत्तर :- स्टेडियम,पार्कों,नालियों और सड़कों का निर्माण कार्य और इंदिरा व्यवसायिक योजना , सुलभ-काम्लेक्स , होम्यो पेथिक हॉस्पिटल आदि प्रमुख कार्य हैं !! C.C.TV केमरे ,बाबा रामदेव मंदिर और खेजड़ी धाम का जीर्णोद्धार भी मुख्य काम हैं जो मैंने करवाए !!
प्रश्न :- लेकिन अभी तो आप कह रहे थे की ये सब काम माननीय विधायक जी और मुख्यमंत्री जी ने करवाए हैं.....???
उत्तर :- जी , लेकिन कुछ भूमिका मेरी भी तो है ना !!
प्रश्न :- आपके द्वारा जो सीवरेज लायुं बिछाई गयी है , वो जगह-जगह से बैठ गयी है , एक बरसात भी नहीं सह पायी वो क्यों ????
उत्तर :- कोई चिंता की बात नहीं है जी , क्यों कि जिस कामनी ने इसका निर्माण करवाना है वो ही इसे तीन बार चेक करवाकर हमें सौंपेगी !!
प्रश्न :- पिछले काफी समय से कई समाचार पत्रों में आपका नाम एक बलात्कार केस में आ रहा है , कई लोग तो इसे लगातार बढ़ा -चढ़ा कर पेश कर रहे हैं , जैसे आपसे कोई दुश्मनी हो ,वो कौन लोग हैं ?? अब तो न्यायालय ने भी इसे वाद चलने लायक मान लिया है , तो क्या अब आप नेतिकते के आधार पर अपने पद से त्याग-पत्र देंगे ??
उत्तर :- ये सब प्री-प्लान्ड षड्यंत्र है , वो लोग ब्लेक-मेलर हैं ,मैं बिलकुल निर्दोष हूँ , मामला न्यायालय में चल रहा है , मुझे न्यायपालिका पर पूर्ण विश्वास है ,जनता उन लोगों को भी भली-भांति पहचानती है जो ये मुहीम चले फिरते हैं !!मैं अपनी अंतरात्मा की आवाज़ को सुनता हूँ , मैं निर्दोष हूँ इस लिए त्यागपत्र देने का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता , न्यायालय में अगर मैं दोषी साबित हो गया तो एक पल की देर किये बिना मैं अपने पद से त्याग-पत्र दे दूंगा !!
                    वार्ता - सार ........
      इंजिनियर बनवारी लाल मेघवाल एक कुशल राजनीतिज्ञ की तरह हर सवाल का जवाब देने में तो सफल हो गये , लेकिन मुझे संतुष्ट नहीं कर पाए , और ना ही जनता उनके इन जवाबों से संतुष्ट होगी !!ऐसा कैसे हो सकता है कि उनके सामने नगर-पालिका से सम्बंधित कार्यों हेतु कोई भ्रष्टाचार का कोई केस सामने नहीं आया हो ?? क्या सभी निर्माण कार्य अपने निर्धारित मानकों को पूरा करते हैं ???नयी नियुक्तियों को दोषपूर्ण नटने वाले नेता पैसे खाने वाले दलाल थे ???? ये सब प्रशन हैं जो इस वार्ता से उभर कर आये हैं !! जनता अगले चुनावों में अपना निर्णय अवश्य सुनाएगी !!!! मैं तो एक वार्ताकार हूँ इस लिए जो उन्होंने बताया वोही आपके लिए परोस रहा हूँ !! यही मेरा धर्म है !! जय भारत - वन्दे - मातरम !!
                        आपका अपना
             पीताम्बर दत्त शर्मा ( राजनितिक-समीक्षक )
        " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER "
             THE BLOG ,READ,SHARE AND COMMENT ON IT.
THE LINK IS :- www.pitamberduttsharma.blogspot.com.
   mob. no. 9414657511. 

No comments:

Post a Comment

"मेरी राजस्थान के आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने हेतु आरम्भ हुई "चुनाव-अभियान यात्रा"सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र हेतु !! आपका साथ आवश्यक है !

मुझे राजस्थान का अगला विधानसभा चुनाव सूरतगढ़ विधानसभा से लड़ना होगा ,क्योंकि जनता भाजपा से रूठकर वापिस कांग्रेस के पास ना जा पाए !मुझे य...