" संत जी कमरे में , विधायक जी गोआ में , " रास - लीला " चालू आहे ! ! ? ? ?

सभी  सखियों और सखाओं को मेरा " रस " भरा नमस्कार !! जय श्री राधे-कृष्णा !!
                        कई वाहनों पर अक्सर ये लिखा दिखाई पड़ ही जाता है कि " हम करें तो अपराध और वो ( श्री कृष्ण जी ) करें तो रास - लीला " !! इस विषय को लेकर श्री कृष्ण जी के चरित्र पर मेरे जैसे मूर्खों और तथाकथित " विद्वानों " द्वारा कई प्रकार के प्रश्न उठाये गये हैं कालान्तर में , उनकी तीन सौ शादियों के बारे में भी कई शक पैदा किये गए " आडम्बर से दूर सेकुलरों " प्राणियों द्वारा !! अपने अथक प्रयासों के बावजूद , अपने प्राणों की बलि दे देने के बावजूद और विदेशों से भरपूर धन के सहयोग मिलने के बावजूद वे सारे समाजसेवी ना तो सनातन धर्म का ही कुछ बिगड़ सके और श्री राधा-कृष्ण जी का तो बिगड़ना ही क्या था ????
                      जन्माष्टमी के पावन पर्व पर दो-तीन समाचार प्रमुखता लिए हुए हमारे " परम-पवित्र मिडिया "की पसंद लगातार बने हुए हैं !! पहले तो आप्ची मुम्बई के पास एक महिला पत्रकार के साथ पाँच " सेकुलर धर्म के शिष्यों ने उसकी मर्ज़ी के बिना " सांस्कृतिक कार्यक्रम " कर डाला !! दूसरी घटना में एक महिला ने साम्प्रदायिक संत को इसी तरह के  कार्यक्रमका दोषी ठहरा दिया !! हद तो तब हो गयी जब " पुत्तर-प्रदेश " माफ़ कीजियेगा उत्तर प्रदेश के एक माननीय विधायक जी गोआ के एक होटल में रंगरलियाँ मानते पकडे गए !! ये महीने ही ऐसे हैं जी सावन - भादों , इन दिनों वैसे ही मन रंगीन-मिजाज़ का हो जाता है , कोई करे भी तो क्या ???
                  हमारी संसद में भी इन घटनाओं को देख-सुनकर भूचाल सा आ गया क्या विपक्ष क्या सरकार के सहयोगी नेता लोग , लगे अपनी-अपनी रोटियाँ सेंकने !
                    कोई फांसी चढाने की वकालत कर रहा है तो कोई " अंग " काटने को जायज़ सज़ा बतलाता है ! कई समाजसेवी तो महिला जगत पर इसे इतना बड़ा अत्याचार बताते हैं कि जैसे महिलाएं कुछ जानती ही नहीं ?? उनके  मन में जैसे कभी मौज-मस्ती की भावना पैदा ही नहीं होती हो ! 90%तक बलात्कार फर्जी होते हैं , 60%तक हत्याओं में महिलाओं द्वारा ही षड्यंत्र रचा जाता है या किसी न किसी महिला का " रोल " उसमे होता है !!
                      
हमारे भावुक नेता,समाजसेवी,और टीवी चेनेल वाले जब भी कोई ऐसी घटना घट जाती है तो वो पुरुष अत्याचार चिल्लाने लग जाते हैं !! उनसे कोई पूछे अगर सभी  महिलाएं इतनी ही पवित्र ( सति-सावित्री ) होतीं तो न तो ऋषियों को " त्रिया-चरित्र " पर कोई ग्रन्थ लिखना पड़ता और नाही किसी प्रोड्यूसर -डायरेक्टर को " मिर्च " फिल्म ही बनानी पड़ती आदमी को चेताने हेतु !! 

                   मित्रो मुझे गलत मत समझना !! मैं तो ये मुद्दा उठाना चाहता हूँ कि हमें कोई निर्णय लेते वक्त किसी पूर्वाग्रह से ग्रसित नहीं होना चाहिए !! निष्पक्ष जाँच करके , जो भी दोषी हो उसे संविधान के अनुसार दंड बिना किसी देरी के मिलना चाहिए !! ना कि किसी के दबाव में कोई काम हो !! मैं तो चाहता हूँ बस इतना कि केवल "गरीब " और असहाय को क़ानून की चक्की में ना पीसा जाए !! क़ानून और उसे लागू करने के तरीके हिन्दू-मुस्लिम-सिख और ईसाई आदि सब धर्मों के लोगों हेतु एक जैसे हों !! कोई भी भिन्नता नज़र नहीं आणि चाहिए !!
                     टेढ़े-मेढ़े तरीके से अपनी बात कहने हेतु क्षमा चाहता हूँ !! मैं मानता हूँ आप मेरे इस लेख को सही परिपेक्ष्य में ही पढेंगे !! धन्यवाद !!
                     एक बार फिर बोलिए :-
 धर्म की जय हो !! अधर्म का नाश हो !! प्राणियों में सद्भावना हो !! विश्व का कल्याण हो !!
              हर - हर - हर - महादेव !!!!!!!!!!!!!!!
                        
प्रिय बन्धुओ और प्यारी बांध्वियो !!
सादर - सप्रेम नमस्कार !!
हमारे ब्लॉग " फिफ्थ-पिल्लर - कोरप्शन - किल्लर " ( 5th pillar corruption killer ) को आप इस लिंक पर जाकर रोज़ाना पढ़ें , शेयर करें तथा अपने अनमोल कोमेंट्स हमारे ब्लॉग पर जाकर अवश्य लिखें !! क्योंकि आपके कीमती कोमेंट्स ही हमारे लिए " च्यवनप्राश " का काम करते हैं !! आप चाहें तो हमारी कोई भी पोस्ट को आप किसी भी समाचार पत्र में प्रकाशित कर सकते हैं !! हमारे ब्लॉग के सारे लेख आपको हमारी फेस-बुक , गूगल +, पेज और ग्रुप्स में भी मिल जायेंगे !! जो भी मित्र अपने लेख हमारे ब्लॉग में प्रकाशित करवाना चाहें वो हमें इ मेल करें !! pitamberdutt.sharma@gmail.com. हमारे ब्लॉग का लिंक ये है :- www.pitamberduttsharma.blogspot.com. और हमारी फेस-बुक का लिंक ये है :- www.facebook.com/pitamberdutt.sharma.7.
हमारा पता ये है :- पीताम्बर दत्त शर्मा ,
हेल्प-लाईन -बिग-बाज़ार,
पंचायत समिति भवन के सामने,
सूरतगढ़ , जिला श्री गंगानगर ,
मो. न. 09414657511.
फेक्स :- 01509222768.
Posted by PD SHARMA, 09414657511 (EX. . VICE PRESIDENT OF B. J. P. CHUNAV VISHLESHAN and SANKHYKI PRKOSHTH (RAJASTHAN )SOCIAL WORKER,Distt. Organiser of PUNJABI WELFARE SOCIETY,Suratgarh (RAJ.)

Comments

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????