" जन - गण " आइये " मन " से देश - हित के फैसले करें.......!!!! अब वक्त आ गया है ????

                 आज लालकिले से हमारे प्रधानमंत्री जी ने राष्ट्र को दसवीं बार संबोधित किया ! आज से पहले जिन लोक प्रिय नेताओं ने दस बार लाल किले से राष्ट्र को संबोधित किया था उन्होंने देश को कुछ सफलताएँ भी दीं थीं लेकिन हमारे सरदार जी जिस काम में माहिर थे यानी " अर्थ - शास्त्र " उसको भी अनर्थ-शास्त्र बनाकर रख दिया है ! गुजरात के मुख्यमंत्री पहले भी अपने भाषण में जो कुछ बोलते थे उसकी तुलना देश के समीक्षक लोग किया करते थे लेकिन जब कल मोदी जी ने कह दिया की कल तुलना कर लेना .....तो कईयों के पेट में दर्द हो गया की ये सपने देखने लगे हैं प्रधानमंत्री बन्ने के !! राजनितिक समीक्षक मित्रो मोदी जी को भारत का अगला प्रधान-मंत्री बनाने का सपना तो अब देश की जनता देखने लगी है , कईयों ने निर्णय कर लिया है और कई उनके आज के भाषण सुनने के बाद कर लेंगे !! आज के भाषण में उन्होंने ये मुद्दे उठाये जिनको उठाने में हमारे सरदार जी चूक गए !!
                       
नरेंद्र मोदी ने भुज के लालन कॉलेज से देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह को खुली चुनौती दे डाली। मोदी ने मनमोहन सिंह से कहा कि हम छोटे राज्य हैं, आप तो देश चला रहे हैं। लेकिन गुजरात और दिल्ली की रेस हो जाए, पता चल जाएगा कि आप क्या कर रहे हैं, हम क्या कर रहे हैं? 


गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालन कॉलेज में तिरंगा फहराने के बाद सबसे पहले देश को आज़ाद कराने वाले शहीदों को नमन किया। उसके बाद कहा कि आज भी हम लोग मानसिक तौर पर गुलाम हैं।


मोदी ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के भाषण का सहारा लेते हुए प्रधानमंत्री पर निशाना साधा। मोदी ने कहा, 'राष्ट्रपति ने कल पाकिस्तान के संबंध में कहा कि सहनशक्ति की सीमा होती है। आज मुझे आशा थी कि प्रधानमंत्री राष्ट्रपति की बात को आगे बढ़ाएंगे। मैं मानता हूं कि अंतरराष्ट्रीय संबंधों को देखते हुए प्रधानमंत्री के स्तर पर क्या बोला जाना चाहिए, यह मुझे मालूम है। लेकिन देश की सेना का मनोबल बढ़ाने वाला बयान दिया जाना चाहिए। मैं मानता हूं कि लाल किला पाकिस्तान को ललकारने की जगह नहीं है। लेकिन यह जगह देश की सेना का मनोबल बढ़ाने वाला जरूर है। भ्रष्टाचार बड़ी समस्या है। राष्ट्रपति जी चिंतित है। आज देश में देश में सास बहू और दामाद का सीरियल चल रहा है। मैं लाल किले से दिए गए प्रधानमंत्री के भाषण को इसलिए सुन रहा था कि मेरे जैसे कार्यकर्ता को नई प्रेरणा मिले। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मैं बहुत निराश हुआ।'
मोदी ने दी दिल्ली को खुली चुनौती
मोदी ने कहा, 'प्रधानमंत्री ने सिर्फ एक परिवार को याद किया। उन्होंने सरदार पटेल और लाल बहादुर शास्त्री को याद नहीं किया। आप अटल बिहारी वाजपेयी को याद न करें यह तो समझ में आता है, लेकिन आप पटेल और शास्त्री को याद न करें तो दिल को चोट पहुंचती है।'

मोदी ने प्रधानमंत्री को ललकारते हुए, 'पंडित नेहरू ने अपने पहले भाषण में जो समस्याएं गिनाई थीं, वही समस्याएं आपने भी गिनाईं। आपने 60 साल में क्या किया? आप एक परिवार की भक्ति में इतने डूब गए हैं कि उत्तराखंड की मदद करने वाले राज्यों का जिक्र भी नहीं किया। मैं मरू भूमि कच्छ के भुज से बोल रहा हूं। मेरी बात पहले पाकिस्तान सुन लेगा, दिल्ली बाद में सुनेगी।हमने जैसे अंग्रेजों से देश को मुक्त किया वैसे ही भ्रष्टाचार, महंगाई, परिवारवाद, आतंकवाद से मुक्त कराना है।'

इससे पहले आजादी की 67वीं सालगिरह की पूर्व संध्या पर गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को चुनौती दी थी। उन्होंने बुधवार को कहा, ‘स्वतंत्रता दिवस पर देश की नजर दो स्थलों पर होगी। एक-लालकिला। दूसरा-लालन कॉलेज (भुज)। इस दिन हमेशा की तरह फिर थोथी बयानबाजी की जाएगी। जबकि दूसरी जगह से लोगों को विकास की राह दिखाई जाएगी। जनता को किए गए कार्यों का हिसाब दिया जाएगा।’
                                      

                         मोदी ने कच्छ मुख्यालय भुज में एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। गुजरात सरकार राष्ट्रीय महत्व के पर्व राजधानी से बाहर जिला मुख्यालयों में मनाती है। साल-2013 के राज्य स्तरीय स्वतंत्रता दिवस की मेजबानी कच्छ को मिली है। गुरुवार को मुख्य समारोह भुज के लालन कॉलेज मैदान पर होना है। मोदी ने देश के नौजवानों से अपील की कि वे उन्हें देश को सही दिशा में ले जाने के लिए समर्थन दें। 
                          
आज मोदी जी पास और हमारे मनमोहन जी फेल हो
गये हैं !! क्यों मित्रो !! आपका क्या कहना है !! अपने
 विचार अवश्य हमारे ब्लॉग पर जाकर लिखें !!
                 प्रिय मित्रो , आपका हार्दिक स्वागत है हमारे ब्लॉग पर " 5TH PILLAR CORRUPTION KILLER " the blog . read, share and comment on it daily plz. the link is - www.pitamberduttsharma.blogspot.com., गूगल+,पेज़ और ग्रुप पर भी !!ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप हमारे मित्र बने अपनी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर !! आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ आयें इसी मनोकामना के साथ !! हमेशां जागरूक बने रहें !! बस आपका सहयोग इसी तरह बना रहे !! " फिफ्थ पिल्लर - कोरप्शन किल्लर " की रिपोर्टें आप हमारे ब्लॉग और समाचार पत्रों के इलावा इस ब्लॉग और संचालक टीम के संयोजक श्री पीताम्बर दत्त शर्मा की फेसबुक , गूगल+, और उनके पेज पर भी पढ़ सकते हैं !! उनका लिंक ये है www.facebook.com/pitamberdutt.sharma.7 और ब्लॉग लिंक ये है :- www.pitamberduttsharma.blogspot.com. है !!
अपने अनमोल विचारों को हमारे ब्लॉग " 5th pillar corruption killer " पर आकर अवश्य टाईप करें ! क्योंकि आपके विचारों पर ही हमारी हिम्मत बढती है जी !! ब्लॉग का लिंक ये है :- www.pitamberduttsharma.blogspot.com. रोज़ाना हमारे ब्लॉग पर पधारें ,आप भी पढ़ें ,अपने सभी मित्रों को भी पढ़ायें और अपने कोमेंट्स भी जरूर लिखें !!
आपका मित्र ,
पीताम्बर दत्त शर्मा (राजनितिक -समीक्षक ),
हेल्प-लाईन-बिग-बाज़ार ,
पंचायत समिति कार्यालय के सामने ,
सूरतगढ़ ,राजस्थान ,09414657511


Comments

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????