Monday, June 1, 2015

" सांसद-विधायक " कीर्रो ? आप र्रो , आपांर्रो ,पार्टी र्रो या फेर चोरां र्रो "??- पीताम्बर दत्त शर्मा (लेखक-विश्लेषक)- मो.न.- 9414657511 - लिंक- www.pitamberduttsharma.blogspot.com

मित्रो !! पिछले नवम्बर2014 की ही तो बात है , जब हम एक विशेष प्रकार के जोश से भरे हुए थे ! हम सब मिलकर देश में बदलाव लाना चाहते थे ! कांग्रेस की लूट से और दूसरी पार्टियों के बार-बार कांग्रेस की झोली में ही जाते रहने के कारण जब हमें कोई विकल्प नहीं सूझ रहा था तो हम सबने अपनी पसंद को दर किनार कर जिसे भी भाजपा ने टिकेट दे दी उसे ही भारी बहुमत से जितवा दिया !फिर संसद का चुनाव आया तो अपने क्षेत्र का सांसद भी यही सोच कर चुन लिया और इसी तरह पंचायत समितिका प्रधान ,चेयरमैन और पार्षद भी चुन लिए !इस सारी  प्रक्रिया पूरी होने में 1 वर्ष कब बीत गया पता ही नहीं चला !अब तो मोदी सरकार का भी एक वर्ष पूर्ण हो चुका है !अब कोई इन्हे सही बता रहा है तो कोई गलत ! कोई इन्हें 10 में से 0 नंबर दे रहा है तो कोई दस में से दस !मोदी जी के आदेश पर ये सरकार के काम बताने हेतु जनता और कार्यकर्ताओं के पास जा रहे हैं ! काम बताने के नाम पर सिर्फ भाषण ही सुनाये जा रहे हैं ! जनता दरबार के नाम पर भी भाषण ही भाषण ! डाकटर की दवाई की तरह दिन में तीन दफा भाषण सुनो और काम पे जाओ नारे लगाकर !
                               लेकिन धरातल पर सच्चाई ये है कि ये सब सांसद-विधायक किसी के भी नहीं हैं ये सिर्फ अपने मतलब के हैं ! मोदी जी की हवा में जीत तो गए हैं लेकिन 5 सालों बाद ये सब वसुंधरा जी और मोदी जी को भी अपने कर्मों के फलस्वरूप गहरे खड्डे में ही धकेल देंगे ! देख लेना आप सब ! क्योंकि मेरे ये विचार इन निम्न लिखित कारणों से बने हैं ! आप भी इन्हे पढ़ कर अपने विचार मुझे अवश्य बताएं !
1.  किसी भी सांसद-विधायक ने अपने क्षेत्र में गुंडागर्दी,चोरी,सट्टा,बुक्की,छेड़छाड़ और भ्रष्टाचार रोकने हेतु ना तो कोई पब्लिक मीटिंग करी , ना ही पोलिस को पाबन्द किया और नाही कोई c.l.g.की मीटिंग में इस विषय पर चर्चा हुई !
2.  भाजपा के मंत्रियों ने राजस्थान संगठन को भी नकारा बना दिया है ! जब भी कोई संगठन का नेता आता है तो उसे भीड़ दिखाकर मालाएं पहनाकर और भाषण दिलाकर गाडी चढ़ा दिया जाता है !
3.  पार्टी के पुराने , मेहनती और निष्ठवान कार्यकर्ताओं को कुछ इस तरह से पार्टी कार्यों से दूर कर दिया गया है की वो अब बड़ी से बड़ी मुसीबत स्वयं सह लेता है अपने बल पर उसे हल करने की कोशिश करता है , लेकिन इन नेताओं के सेवा केंद्र जाना उचित नहीं समझता !! भला क्यों ??
4. जनता की मूलभूत समस्याओं का तो हल निकलवाया नहीं और वार्डों में जाकर समस्याएं जानने के नाटक किये जा रहे हैं ! क्या इनको समस्याओं का पता नहीं है ??
5. कागज़ के शेरों को पार्टी के पद सौंपे जा रहे हैं जिनकी केवल फोटो ही छपेगी , कोई काम दिखाई नहीं देगा !
                        अब मैंने तो आपको ये सब बताकर अपना काम पूरा कर दिया है जी बाकी पार्टी जाने या आप जनता जाने !मैंने तो राजनीति छोड़ दी है जी !!
                     
"5TH PILLAR CORRUPTION KILLER",नामक ब्लॉग रोज़ाना अवश्य पढ़ें,जिसका लिंक - www.pitamberduttsharma.blogspot.com. है !इसे अपने मित्रों संग शेयर करें और अपने अनमोल विचार भी हमें अवश्य लिख कर भेजें !इसकी सामग्री आपको फेसबुक,गूगल+,पेज और कई ग्रुप्स में भी मिल जाएगी !इसे आप एक समाचार पत्र की तरह से ही पढ़ें !हमारी इ-मेल ईद ये है - pitamberdutt.sharma@gmail.com. f.b.id.-www.facebook.com/pitamberduttsharma.7 . आप का जीवन खुशियों से भरा रहे !इस ख़ुशी के अवसर पर आपको हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !!


आपका अपना - पीताम्बर दत्त शर्मा -(लेखक-विश्लेषक), मोबाईल नंबर - 9414657511 , सूरतगढ़,पिनकोड -335804 ,जिला श्री गंगानगर , राजस्थान ,भारत !
  

1 comment:

  1. aapkee bat se sahmat hoon mai:
    लेकिन धरातल पर सच्चाई ये है कि ये सब सांसद-विधायक किसी के भी नहीं हैं ये सिर्फ अपने मतलब के हैं ! मोदी जी की हवा में जीत तो गए हैं लेकिन 5 सालों बाद ये सब वसुंधरा जी और मोदी जी को भी अपने कर्मों के फलस्वरूप गहरे खड्डे में ही धकेल देंगे ! देख लेना आप सब !

    ReplyDelete

मुसलमानो का असली दूश्मन कौन है ..???? अगर भारतीय मुसलमानो से पूछो की तुम्हारा सबसे बड़ा दुश्मन कौन है,तो वो बोलेंगे... आरएसएस वीएचपी बीज...