Sunday, January 13, 2013

" A - B - C - D - छोड़ो...., दुश्मन का मुँह तोड़ो "..!!?

   वीर देशवासियों, जय-हिन्द !! दिमाग का " भरता बना हुआ है आजकल ! रोजाना कोई न कोई ऐसा समाचार पढने - देखने को मिल जाता है की पूछो मत ...!! उसके ऊपर हमारे बलशाली - बुद्धिमान नेताओं की कारस्तानियाँ.........क्या कहने...!!??                                                            जनता को बहकाना - बरगलाना इनको भली-भाँती आ गया है !! बस बहुत हो चुका ...., अब तो भारत की सेना " सत्ता "  मुझे संभला दे......तो मैं इन्ही नेताओं, वकीलों , समाजसेवियों और पत्रकारों को दिल्ली के नेहरु स्टेडियम में बंद करके तब तक बाहर ना निकलने दूं , जब तक सारी समस्या का हल न ये निकाल दें !! फिर मैं इस देश में सही व्यवस्था बनाकर चुनाव करादूं !!.....क्या मेरा सपना पूरा होगा...????
                        

4 comments:

  1. थोथी गीदड़ भभकियां, इस सत्ता का काम |
    सीमा पर सिर कट रहे, नक्सल फाड़ें चाम |
    नक्सल फाड़ें चाम, पेट बम प्रत्यारोपित |
    हिमायती हुक्काम, करें जनता को कोपित |
    नारी अत्याचार, सड़ी कानूनी पोथी |
    त्राहिमाम हरबार, कार्यवाही पर थोथी ||

    ReplyDelete
  2. आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।।

    ReplyDelete
  3. आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति सोमवार के चर्चा मंच पर ।। मंगल मंगल मकरसंक्रांति ।।

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    मकर संक्रान्ति के अवसर पर
    उत्तरायणी की बहुत-बहुत बधाई!

    ReplyDelete

"मीडिया"जो आजकल अपनी बुद्धि से नहीं चलता ? - पीताम्बर दत्त शर्मा {लेखक-विश्लेषक}

किसी ज़माने में पत्रकारों को "ब्राह्मण"का दर्ज़ा दिया जाता था और उनके कार्य को "ब्रह्मणत्व"का ! क्योंकि इनके कार्य समाज,द...