Friday, May 18, 2012

" रुपया गिरा रे , दुनिया के बाज़ार में "..!!!

गिर के संभलने वाले दोस्तों को मेरा , नमस्कार !!
           पिछले दो दिन से हमारा रुपया बार - बार गिर रहा है , पूरी संसद लगी है उठाने में लेकिन रुपया है  की उठ ही  नहीं रहा !! मेरा पडोसी प्रणब द। का भाषण सुन कर बोला यार ये क्या बोल रहे हैं मेरा रुपया तो गिरा नहीं , मैंने संभाल कर रख्खा है तो फिर ये सारे देश को क्यों बा - खबर कर रहे हैं ?? ये बोल रहे हैं की हमारे रूपये की कीमत दुनिया की नज़रों में गिर गयी , तो आप उसे कम कीमत पर मत चलाओ !! मैं बोला नहीं यार जो देश जितनी तरक्की कर रहा होता है , उस देश का रुपया उतना ही मजबूत होता है !! वो बोला नहीं यार सब झूठ है , अमेरिका कितनी बार अपने मुंह से बोल चूका है की हमारा देश वित्तीय संकट से गुज़र रहा है , लेकिन उनका डालर तो कभी नहीं गिरा क्यों ...??? वो बोला भई सरकार  के रूपये की सरकार ही जाने मैं तो अपने रूपये को 100. पैसों में ही चलाऊंगा , देखता हूँ कोई क्या कर लेगा ????? 
                       वो बोला जब सारे निर्णय ये मंत्री लोग और इज्जत दार सांसद ही करते हैं तो फिर अपनी गलतियों की सज़ा  भी ये ही भुगतें ....!! मलाई तो ये  लोग खुद खा जाते हैं और जब कोई मुसीबत आ जाती है तो जनता के सामने रोने लग जाते हैं क्यों ...???
                 मैं बोला हाँ यार तू बोल तो सही रहा है , जब से ये ससुरा आर्थिक सुधार नामक प्रोग्राम चला है तब से हर भारतीय परेशान ही है .......!!!!!! आप ही बताइए दोस्तों आपका क्या विचार है ??? आज ही आपका अपना ब्लॉग पढ़ें , जिसका नाम है :- " 5th pillar corrouption killer " आज ही लाग आन करें :- www.pitamberduttsharma.blogspot.com. इसके सारे लेख पढ़ें और अपने विचार भी वंहा जाकर लिखें !! अपने मित्रों के साथ इन्हें बांटे भी , आज ही ज्वाईन करें !! धन्यवाद !! जय - श्री - राम ....!!! 

                              

No comments:

Post a Comment

"मीडिया"जो आजकल अपनी बुद्धि से नहीं चलता ? - पीताम्बर दत्त शर्मा {लेखक-विश्लेषक}

किसी ज़माने में पत्रकारों को "ब्राह्मण"का दर्ज़ा दिया जाता था और उनके कार्य को "ब्रह्मणत्व"का ! क्योंकि इनके कार्य समाज,द...