Wednesday, May 23, 2012

" और कोई ....चारा ....नहीं था "....!!

" बेचारे " सभी मित्रों को मेरा " चारे " वाला नमस्कार ! कृपया स्वीकार करें ! स्वीकार तो करना ही पड़ेगा क्योंकि आपके पास भी इसके सिवा कोई " चारा " नहीं है जैसे लालू , मुलायम . ममता और माया जी के पास u.p.a. को समर्थन देने के इलावा कोई चारा नहीं है !!
संघ के पास श्री संजय जोशी का स्तीफा दिलाने के सिवा कोई चारा नहीं है !  सरकार के पास पेट्रोल के दाम बढाने के सिवा कोई चारा नहीं है ! फिर रेल गैस और बसों के किराये बढाने के सिवाय कोई चारा नहीं रह जाएगा ??
                     जो लोग खा - खा कर फुले जा रहे हैं , भ्रष्ट चार करके नोटों में धंसे जा रहे हैं , गुंडे जो गुंडागिरी कर रहे हैं वो भी मजबूरी में ही तो कर रहे हैं उनके पास भी तो कोई चारा नहीं है ??? समाजसेवा करने वाले चोरों के भेद खोलने वाले इमानदार अफसर जो रोज़ मारे जा रहे हैं उनके पास भी तो कोई चारा नहीं है ! ये चारा है ही ऐसा शब्द जो दोनों जगह फिट बैठ जाता है !लालू जी पर तो बहुत ज्यादा फिट बैठा था !! दोनों एक दुसरे के प्राय्वाची बन गए थे !! 
             हम सब नेताओं को इस " 5th pillar corrouption killer " के माध्यम से चेता देना चाहते हैं की संभल जाओ , समझ जाओ ......!!! अन्यथा जिस दिन जनता के पास कोई चारा " क्रांति " के इलावा नहीं रहेगा ......उस दिन आप आगे - आगे रहोगे नेता जी और जनता पीछे - पीछे !!!! जनता पता नहीं आपको तंदूरी मुर्गा बनाएगी या झटके वाला बकरा .....????पता नहीं सभी राजनितिक दलों के नेताओं को हो क्या गया है ससुरे सब एक ही थाली के चाटते बट्टे हो रहे हैं विपक्षी नेता भी दो दिन जनता को बेवकूफ बनाने  प्रदर्शन करेंगे फिर सोनिया मनमोहन की गोदी में जाकर खेलने लगेंगे !! और तो और इन राजनितिक दलों को चलाने वाले दो मुख्या संगठनो का भी व्यवहार आश्चर्य जनक रूप से बदल गया है !अब आप ही देखिये की घोटाले बाज़ राजा सदन में आता है तो कांग्रेस के संगठन को कोई फर्क नहीं पड़ता और इधर गडकरी जी को भाजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष दोबारा बनाने की जिद में और मोदी जी को राज़ी करने हेतु संजय जोशी जी की बलि दे दी जाती है ...क्यों ...??? आदमियों को उलट - पलट करने से क्या होगा मिलकर काम करने की हिदायत देने से ही हालात सुधरेंगे ऐसे स्टीफे दिलवाने से नहीं ...??? ऐसे ही सरकार को खर्चे कम करके , टेक्स कम करके जनता को राहत देनी होगी अन्यथा इस भारत का राम ही मालिक है जी .....!! क्यों मित्रो ??? ...आपकी क्या राय है इस बारे में ....www.pitamberduttsharma.blogspot.com. नामक ब्लॉग को खोल  कर अपनी टिप्प्न्नी लिखिए !! और अपने सभी दोस्तों को ये लेख सेंड करके अवश्य पढ़ाएं देश हित में ....!! क्रान्ति की अलख को जगाएं !! भ्रष्ट नेता को न देखने जाएँ , ना उसका भाषण सुने , न उसको वोट देवें चाहे वो आपकी जाती धर्म इलाके से ही सम्बंधित क्यों ना हो !! जोर से बोलिए ......!1
           धर्म की जय हो .....!!
                  अधर्म का नाश हो .....!!
                        प्राणियों में सद्भावना हो ....!!
                             विश्व का कल्याण हो ....!
             हर - हर - हर ........महादेव ...........!!! 

No comments:

Post a Comment

प्रेस की स्वतंत्रता के नाम पर अपराधियों के संरक्षण का अड्डा बनता जा रहा है प्रेस क्लब! प्रेस क्लब (PCI) की कुछ प्रेसवार्ताओं, बैठकों, गत...