Thursday, April 19, 2012

" बधाई हो ! अब हम भी मिसाइल हमला रोक सकेंगे "!!

सभी देश भगतों को मेरा सादर नमस्कार !
                         आज मेरा मन बड़ा ही हर्षाया हुआ है क्योंकि हमारी सरकार की निति से और हमारे विद्वान वैज्ञानिकों की म्हणत से हम भारत वासियों ने पहली इंटर कांटिनेंटल ब्लास्तिक मिसाइल बना ली है , और उसका सफलता पूर्वक परिक्षण भी कर लिया है , इसका नाम " अग्नि - 5 है और ये 5000 किलोमीटर तक मार भी कर सकती है और बचाव भी कर सकती है । हमसे पहले रूस,चीन,अमेरिका और फ़्रांस को ये ताकत प्राप्त है ! रक्षामंत्रल्या के सलाहकार और डी.आर.डी.ओ.के चीफ श्री वी. के सारस्वत जी के अनुसार उनकी टीम ने कर दिखाया , जिसके लिए वो सब बधाई के पात्र हैं । हमें हमारे वैज्ञानिकों पर गर्व है और हमारी सरकार भी सही निर्णय लेने के कारन बधाई की पात्र है ! इस मिशन के डायरेक्टर डा. श्री अविनाश चन्द्र ने अभी ३-४ परिक्षण और होंगे तब इसे सेना में शामिल किया जायेगा ! ये भारत ही है जी  , जिस से किसी भी देश को खतरा नहीं है , हम तो अपनी सुरक्षा हेतु ये सब कर रहे हैं । यही बात नाटो के प्रवक्ता डा. एंडर्स फ़ो रासमुसेन जी ने भी कही है !!
                                    भारत ने कभी भी पहले किसी को दुश्मन नहीं माना है , बल्कि हमने तो सबको एक परिवार  माना है । इसी वजह से कई बार हमें कमज़ोर समझ लिया जाता है लेकिन हमने कई बार विश्व को अपनी ताकत भी दिखाई है !!
                    आप सब मित्र भी अपने विचार हमें अवश्य बताइये जी हमारे ब्लॉग पर टाईप करके जिसका नाम है :- " 5th pillar corrouption killer " कृपया आज ही लाग आन करें www.pitamberdutt.sharma.blogspot.com. सारे मिल कर आज बोलो ....जय - हिंद ...!! 

No comments:

Post a Comment

प्रेस की स्वतंत्रता के नाम पर अपराधियों के संरक्षण का अड्डा बनता जा रहा है प्रेस क्लब! प्रेस क्लब (PCI) की कुछ प्रेसवार्ताओं, बैठकों, गत...