" म्हारे मनमोहने की तो - बाट - लाग रही से " ..!!" नो सौ चूहा खाके ,- बिल्ली - हज्ज करण ने चाली से !!

मेरे प्यारे मित्रो , सीधा - साधा नमस्कार स्वीकार कीजिये !! क्योंकि आज मैं जिस विषय को आपके साथ सांझा करना चाहता हूँ , वो भी बिलकुल सीधा साधा है ।  वो ये की क्या हमारे प्रधान-मंत्री जी से सोनिया जी का दिल भर गया है ...???
                    क्योंकि जिन चार या पांच ( होसकता है की संख्या कुछ दिनों में और बढ़ जाए ) मंत्रियों ने " अपना मंत्री पद छोड़ कर " पार्टी की सेवा करने की इच्छा जताई है वो इतने चतुर हैं की पूछो मत ! वो ये जानते हैं की अगले संसदीय चुनावों में कांग्रेस के नेत्रित्व में सर्कार नहीं बनेगी अतः ये सब बदमाश लोग मोजुदा कार्यकाल समाप्त होने से पहले उस प्रकार मैदान छोड़ कर भाग रहे हैं जैसे जहाज़ के डूबने से पहले चूहे भागते हैं ..!! ये सब काम एक सोची समझी कूट निति के चलते होरहा है !! कुछ घाघ किस्म के नेताओं का मानना है की क्यों न मनमोहन जी से स्तीफा दिलवाकर ...अपने युवराज " राहुल बाबा को प्रधानमंत्री बना दिया जाए और फिर चुनाव लड़ा जाए !! तब हो सकता है की भारत की जनता " भावुक " होकर कांग्रेस को " वोट " करदे                               पिछले कई महीनो से ये संकेत भी आ रहे हैं की मनमोहन जी और सोनिया जी में अब वैसे सम्बन्ध मधुर नहीं हैं जैसे पहली बार की सरकार बनाते वक्त थे !! कई ऐसी योजनायें और कार्यक्रम हैं जिन पर दोनों के विचार भिन्न - भिन्न हैं !! चाहे वो महाराष्ट्र में परमाणु बिजली घर बनाने का मामला हो या फिर श्री लंका निति ! वैसे इतिहास को देखा जाए तो जब भी किसी पद पर आसीन व्यक्ति को हाई - कमांड के निर्देश पर उसको उसके पद से उतारना हो तो इसी तरह से ही उतारा जाता है जैसे आज होता दिखाई दे रहा है ???
                           हाई - कमान का मानना है की जितने भेद रोजाना सरकार से बाहर आ रहे हैं वो अपने मनमोहन जी की मर्ज़ी से ही बाहर आ रहे हैं और कांग्रेस की भद्द पिट रही है !! इसलिए इस मनमोहने को भी सीताराम केसरी और नरसिम्हा राव की तरह दूध में से मख्खी की तरह फेंको !! इसलिए मैंने कहा की " अपने मन - मोहने की तो - बाट - लाग  रख्खी से ...और नोऊ सौ चूहे खाके ससुरा या बिल्ला " ...हज कारन ने चाल्या सै...?? अब बस देखनो ओ है के ओ काम राष्ट्रपति के चुनावास्यूं पहले होवे है के बाद मैं ...??? 
                           सरदार जी को भी सारे मसले का ज्ञान है इसीलिए उन्होंने सोनिया जी के पास संदेशा पंहुचाया की मुझे राष्ट्रपति ही बनादो ...सुना है की मैडम मानी कोन्या ...!!

                                 तो मित्रो आपका क्या कहना है जी इस मुद्दे पर .... आप अपने अनमोल विचार हमारे ब्लॉग या ग्रुप पर आकर टाईप करें जी , जिसका नाम है :- " 5th pillar corrouption killer " अगर आपको हमारे लेख पसंद आ जाएँ तो आप इनको प्रकाशित भी कर सकते हैं और फेस बुक पर शेयर भी कर सकते हैं !! आप चाहें तो आप हमारे ब्लॉग को ज्वाइन भी कर सकते हैं आज ही लाग आन करें .......www.pitamberduttsharma.blogspot.com.                   हम  आपके  अनमोल विचारों को  सहेज  कर  रखना  चाहते  हैं  ताकि जब हमारी पुस्तक का प्रकाशन हो तब आपके विचारों को भी स्थान दिया जा सके !! ....धन्यवाद !! सारे मिल कर बोलिए .....जय श्री राम !! धर्म की जय हो !! प्राणियों में सद्भावना हो ....पापियों का नाश हो !! और विश्व का कल्याण हो ! हर - हर महा ......देव !! 

Comments

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????