" नसीहत - का इंजेक्शन " क्या काम करेगा ? ?

नसीहत देने के सभी रोगी मित्रों को मेरा नसीहत भरा नमस्कार !! " नसीहत देना " एक ऐसी बीमारी है जो विश्व के सभी देशों में पायी जाती है । बालक से ले कर बूढ़े, पढ़े लिखे हों या अनपढ़ , अमीर हो या ताकतवर ,गोरे हों या काले ,मजदूर हों या अफसर ,मर्द हो या ओरत सब इस खतरनाक रोग से ग्रस्त हो सकते हैं !! ये रोग ऐसा है की जिसको लग गया तो अंत तक रहता है !! मैं और मेरे जैसे कई लोग इस रोग से पीड़ित हैं ,कई नसीहत देने वाले तो अपने नाम से किताबें और ग्रन्थ भी लिख गए !!  ग्रंथों में ये भी लिखा है की बिना मांगे अगर आप किसी को नसीहत दोगे तो उस नसीहत की " कद्र " नहीं होगी !! फिर भी सभी फ्री में नसीहत दिए जा रहे हैं .....!! अमेरिका इरान को नसीहत दे रहा है की परमाणु बम्ब मत बनाओ तो भारत पाकिस्तान को नसीहत दे रहा है की आतंकवाद को प्रोत्साहन मत दो !! चाइना भूटान को ,रशिया अफगानिस्तान को आदि आदि !! सब एक दुसरे को नसीहतें दिए जा रहे हैं ! राजनितिक दल भी एक दुसरे को नसीहतें देते रहते हैं लेकिन मानता कोई नहीं !! अभी हाल में ही r.s.s. ने अपनी पार्टी भाजपा को नसीहत दे दी , ये कोई पहली बार नहीं हुआ , बल्कि समय - समय पर ऐसा होता रहता है !! लेकिन कोई सुनता नहीं .....???? फिर भी नसीहतें जारी हैं !! जब राष्ट्रीय अध्यक्ष से लेकर मंडल अध्यक्ष तक r.s.s.की मर्ज़ी से ही नियुक्त होते हैं यंहा तक की चुनाव भी इस प्रकार से कराए जाते हैं ताकि r.s.s . की मर्ज़ी ही चले !!??? फिर नसीहतें क्यों , खुद ही सबक क्यों नहीं लेते ये r.s.s.वाले ??? अगर ये b.j.p. वाले नहीं मानते तो एक और पार्टी बनादो जो सीधा संघ कार्यालय से ही हर स्तर पर चले ....!! फिर तो राम राज्य आएगा ..या नहीं ...!!??? मैं कहता हूँ फिर भी राम राज्य नहीं आएगा ......!! आप पूछोगे की क्यों नहीं आयेगा , वो यूं नहीं आएगा --क्योंकि कलयुग चल रहा है भाइयो !! तो बोलो जय श्री राम !! आज ही खोलो मेरा ब्लॉग , जिसका नाम है " 5th pillar corrouption killer " और अपने विचार प्रकट करें !!    

Comments

Popular posts from this blog

बुलंदशहर बलात्कार कांड को यह ‘मौन समर्थन’ क्यों! ??वरिष्ठ पत्रकार विकास मिश्रा - :साभार -सधन्यवाद !

आखिर ये राम-नाम है क्या ?..........!! ( DR. PUNIT AGRWAL )

भगवान के कल्कि अवतार से होगा कलयुग का अंत !!! ????